जानिए कितनी होती है आपके द्वारा चुने गए सासंद की सैलरी, मिलती हैं यह सुविधाएं

नई दिल्ली। 

लोकसभा चुनाव का परिणाम अब हमारे सामने आ गया है। देश की जनता ने मोदी सरकार पर फिर से भरोसा दिखाया है। अक्सर लोगों के मन में यह जिज्ञासा होती है कि जिन 542 सांसदों को हमने वोट देकर देश के सर्वोच्च स्थान संसद पहुँचाया है, उनकी तनख्वा कितनी होती है। और उन्हें क्या सुविधाएं मिलती हैं। यदि आपको भी ये सभी बाते जानना है तो ये खबर विशेष आपके लिए ही है। 

इतनी होती है सांसदों की सैलेरी

पहले सांसदों की सैलरी 50 हजार रुपये प्रति माह हुआ करती थी लेकिन उसे मेंबर ऑफ पार्लियामेंट एक्‍ट 1954 में संशोधन कर बड़ा दिया गया। जिससे अब उनकी सैलरी बढ़कर 1 लाख रुपए प्रति माह हो गयी है। 1 लाख रुपए महीने के अलावा सांसदो को कई तरह के भत्ते भी मिलते हैं। दैनिक भत्‍ते के नाम पर सांसदों को प्रतिदिन 2,000 रुपये मिलते हैं। संवैधानिक भत्ते नाम पर सांसदों को 45,000 रुपये मिलते हैं तो वही कार्यालय व्‍यय भत्‍ते के नाम पर एक सांसद को 45000 रुपए प्रतिमाह दिया जाता है। सबसे खास बात यह है कि सांसदों की सैलेरी पर टैक्स नहीं लगता है। 

रेल यात्रा में सांसद को ये मिलती हैं सुविधाएं 

यदि रेल यात्रा की बात की जाए तो हर महीने एक फ्री नॉन-ट्रांसफेयरेबल फर्स्‍ट क्‍लास एसी या किसी भी एक्‍जेक्‍यूटिव क्‍लास का ट्रेन पास और एक फर्स्‍ट क्‍लास और एक सेकेंड क्‍लास का किराया भी दिया जाता है। यदि सांसद सड़क मार्ग से यात्रा करता है तो 16 रुपये प्रति किमी के हिसाब से यात्रा भत्‍ता सांसदों को मिलता है।

हवाई यात्रा में ये हैं सुविधाएं 

सांसदों को  हवाई यात्रा के लिए 25 प्रतिशत भुगतान ही सांसदों को करना है। एक सांसद सालभर में 34 हवाई यात्राएं कर सकता है। यह सुविधा सांसद के पति/पत्नी दोनों के लिए होती है। अगर कोई 

फोन और घर भी फ्री

सांसदों को दिल्ली में मुफ्त आवासीय सुविधा भी मिलती है। इस दौरान उन्हें पानी, बिजली, दो लैंडलाइन और एक मोबाइल फोन की सुविधा भी आवास पर रहती है। सांसद और उनके परिवार के लोगों को मेडिकल सुविधा भी मिलती है। साथ ही कई अन्य लाभ मिलते हैं।

"To get the latest news update download tha app"