मयंक अग्रवाल ने ठोका पहला दोहरा शतक, सहवाग की बराबरी की

खेल डेस्क: भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच विशाखापट्टनम में खेले जा रहे सीरीज के पहले टेस्ट मैच में भारतीय ओपनर मयंक अग्रवाल ने जबरदस्त बल्लेबाजी करते हुए अपने करियर का पहला दोहरा शतक लगा दिया| मयंक अग्रवाल 215 रन बनाकर आउट हुए। उन्होंने अपने टेस्ट करियर का पहला दोहरा शतक लगाया। ये उनका 5 टेस्ट में पहला शतक भी है। रोहित शर्मा ने 176 रन बनाए। टेस्ट के दूसरे दिन गुरुवार को भारत के रविंद्र जडेजा और रविचंद्रन अश्विन क्रीज पर हैं। 

मयंक अग्रवाल ने 115वें ओवर की पहली गेंद पर अपने करियर का पहला दोहरा शतक पूरा किया। केशव महराज की गेंद पर दो रन लेकर मयंक ने अपना 200वां रन पूरा किया। इसके साथ ही उन्होंने वीरेंद्र सहवाग के रिकॉर्ड की बराबरी भी कर ली है| वे देश के सिर्फ दूसरे बल्लेबाज हैं, जिसने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दोहरा शतक जमाया है| यह उनका भारत में पहला टेस्ट मैच है|  इस तरह उन्होंने भारत में खेले गए अपने पहले ही टेस्ट मैच में ना सिर्फ शतक, बल्कि दोहरा शतक जमा दिया है|

रोहित और मयंक ने पहले विकेट के लिए भारत के लिए तीसरी सबसे बड़ी साझेदारी की। दोनों ने धवन और विजय को पीछे छोड़ा। धवन-विजय ने 2013 में मोहाली में 289 रनों की साझेदारी की थी। भारत के लिए पहले विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी का रिकार्ड वीनू मांकड और पंकज रॉय के नाम है। दोनों ने चेन्नई में 1956 में 413 रन की साझेदारी की थी। इस मामले में दूसरे नंबर पर द्रविड़ और सहवाग की जोड़ी है। दोनों ने 2006 में पाकिस्तान के खिलाफ लाहौर में 410 रन की साझेदारी की थी।   इस मैच में भारत के दोनों ओपनरों ने शतक बनाए हैं| रोहित शर्मा मैच के दूसरे दिन गुरुवार को 176 रन बनाकर आउट हो गए|  लेकिन मयंक अग्रवाल ने मौका नहीं गंवाया. उन्होंने अपने शतक को दूसरे शतक में बदला|  28 साल के मयंक अग्रवाल दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दोहरा शतक जमाने वाले सिर्फ दूसरे भारतीय हैं. उनसे पहले सिर्फ वीरेंद्र सहवाग ही ऐसा कर सके हैं| सहवाग की पारी की खास बात यह थी कि वे दोहरा शतक बनाकर ही नहीं थमे थे. उन्होंने अपने दोहरे शतक को तिहरे शतक में भी बदला था| मयंक अग्रवाल अपने करियर का सिर्फ पांचवां टेस्ट मैच खेल रहे हैं. उन्होंने पिछले साल दिसंबर में अपना पहला टेस्ट मैच खेला था|  

"To get the latest news update download tha app"