नरोत्तम की छवि खराब करने की कोशिश में सरकार, घोटाला हुआ तो CBI जांच करवाएं: पवैया

भोपाल।

ई-टेंडरिंग घोटाले को लेकर शिवराज सरकार में मंत्री रहे और वर्तमान विधायक नरोत्तम मिश्रा पर उठ रहे सवालों के बाद बीजेपी समर्थन में उतर आई है। एक के बाद एक बड़े नेता मिश्रा के समर्थन में बयान दे रहे है और सरकार पर जमकर हमला बोल रहे है। अब पूर्व मंत्री जयभान सिंह पवैया ने कमलनाथ सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा है कि अगर कमलनाथ सरकार को लगता है कि ई-टेंडिरग में घोटाला हुआ है, तो वह सीबीआई से जांच करा सकती है। साथ ही कहा कि जब व्यापमं घोटला हुआ तो शिवराज सरकार ने सीबीआई से जांच कराई थी।

पवैया यही नही रुके उन्होंने आगे कहा कि  सरकार मिश्रा की छवि खराब करने की कोशिश कर रही है, कर्मचारियों पर दबाव बनाया जा रहा है, ताकी वे मिश्रा का नाम ले, सरकार मिश्रा की छवि पर दाग लगाने में जुटी है।लेकिन बीजेपी एकजुट है, सरकार को अपने षड़यंत्र में कामयाब नही होने देगी।अगर सरकार वाकई अपना चरित्र राजा हरिशचन्द्र की तरह बताना चाहती है तो बीते दिनों टांसफर में किए गए बेशुमार भ्रष्टाचारों की जांच करवाएं।विपक्ष में बैठकर रेत अवैध खनन पर हल्ला मचाने वाली कांग्रेस सत्ता में आने के बाद उत्खनन की जांच करवाएं। 

कांग्रेस सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा है कि पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा को बदनाम किया जा रहा है। पवैया ने कहा कि कांग्रेस सरकार EOW का गलत तरीके से इस्तेमाल कर रही है। सीएम कमलनाथ को ई-टेंडिरग घोटाले की जांच सीबीआई से कराना चाहिए। इतना ही नहीं मध्य प्रदेश में अवैध उत्खनन को लेकर सरकार को घेरा है। उन्होनें कहा है कि कांग्रेस सरकार में नदियों में अवैध उत्खनन हो रहा है।

बता दे कि इसके पहले पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज-उमाभारती, प्रदेशाध्यक्ष राकेश सिंह और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा भी उनका समर्थन कर चुके है। 

"To get the latest news update download tha app"