राजस्थान में बड़ा राजनीतिक फेरबदल, बसपा के 6 विधायक कांग्रेस में शामिल

जयपुर। राजस्थान में बहुजन समाजवादी पार्टी को बड़ा झटका लगा है। प्रदेश में पार्टी के सभी छह विधायकों ने कांग्रेस का हाथ थाम लिया है। यह सभी विधायक कांग्रेस को बाहर से समर्थन दे रहे थे। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि हमने यह फैसला राज्य के हित में लिया है। बसपा विधायकों ने सोमवार देर रात कांग्रेस में शामिल होने की घोषणा की। करीब रात 11 बजे सभी विधायक विधानसभा पहुंचे और उन्होंने कांग्रेस की सदस्यता ली। इस घटनाक्रम से मध्य प्रदेश की सियासत पर भी असर दिख सकता है। जुलाई में कांग्रेस एमपी में भी भाजपा के दो विधायकों को पार्टी के पक्ष में लाने में कामयाब रही है।

ये विधायक कांग्रेस में हुए शामिल- राजेन्द्र गुढा (विधायक, उदयपुरवाटी), जोगेंद्र सिंह अवाना (विधायक, नदबई), वाजिब अली (विधायक, नगर), लाखन सिंह मीणा (विधायक, करोली), संदीप यादव (विधायक, तिजारा) और बसपा विधायक दीपचंद खेरिया ने कांग्रेस की सदस्यता ली। राजस्थान में बसपा विधायकों के कांग्रेस में शामिल होने के बाद अब यहां सरकार बहुमत के आंकड़े में छह विधायक ज्यादा हो गई है। 

बहुजन समाज पार्टी के विधायक कांग्रेस को अब तक बाहर से समर्थन दे रहे थे. इस बार विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को बहुमत नहीं मिला था. वह 200 विधानसभा सीटों में से 99 पर आकर रुक गई थी, मगर उपचुनाव में 100 का आंकड़ा छुआ था. अब तक सरकार पर तलवार लटकती रहती थी, मगर अब बहुजन समाज पार्टी के सभी 6 विधायकों को कांग्रेस में शामिल कर अशोक गहलोत ने राजस्थान में अपनी स्थिति मजबूत कर ली है.

"To get the latest news update download tha app"