महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान, MP उपचुनाव की भी घोषणा

नई दिल्ली। 

चुनाव आयोग ने महाराष्ट्र और हरियाणा में चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया है। महाराष्ट्र और हरियाणा का मतदान 21 अक्टूबर को होगा, जबकि मतगणना 24 अक्टूबर तय की गई है।लेकिन झारखंड में चुनाव की तारीखों की घोषणा नहीं की गई है। विधानसभा चुनाव की घोषणा के साथ ही दोनों राज्यों में आदर्श आचार संहिता लागू हो गई है।  यह जानकारी मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने शनिवार को एक प्रेस वार्ता में दी है। 

इसके साथ ही देश के अलग-अलग राज्यों में 64 विधानसभा सीटों के लिए उपचुनाव का भी ऐलान किया गया है। अरोड़ा ने बताया कि 21 अक्टूबर को ही अरुणाचल प्रदेश, बिहार, उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, असम, गुजरात, हिमाचल प्रदेश, कर्नाटक, केरल, मेघालय, ओडिशा, पंजाब, राजस्थान, सिक्किम, तमिलनाडु, तेलंगाना और केंद्र शासित प्रदेश पुड्डुचेरी में 64 सीटों पर उपचुनाव होगा। इसका नतीजा भी 24 अक्टूबर को आएगा।

अरोड़ा के मुताबिक, महाराष्ट्र में 2 नवंबर को विधानसभा का कार्यकाल खत्म हो रहा है। ऐसे में इससे पहले इन राज्यों में चुनाव की प्रक्रिया पूरी होंगी। चुनाव आयुक्त के मुताबिक, महाराष्ट्र में 8.9 करोड़ मतदाता हैं और 1.8 लाख बैलेट यूनिट, 1.28 लाख CU और 1.39 लाख वीवीपैट मशीनें हैं। प्रत्याशी के लिए चुनाव में खर्च की अधिकतम लिमिट 28 लाख रुपये रहेगी। चुनाव आयोग की ओर से खर्च पर भी नजर रखी जाएगी। चुनाव आयोग की ओर से राजनीतिक दलों से अपील की गई है कि वह अपने प्रचार में प्लास्टिक का कम से कम इस्तेमाल करें और पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए अपने प्रचार को आगे बढ़ाएं।

आचार संहिता लागू

महाराष्ट्र की 288 सदस्यों वाली विधानसभा सभा का कार्यकाल नौ नवंबर को समाप्त हो रहा है, जबकि हरियाणा की 90 सदस्यों वाली विधानसभा का कार्यकाल दो नवंबर को समाप्त हो रहा है। आचार संहिता लागू होते ही दोनों राज्यों में बदलाव दिखेंगे। जैसे तबादले और नियुक्तियां टल जाएंगी। यदि किसी अफसर को बदलना है तो निर्वाचन विभाग ही बदलेगा। सरकारी खर्च पर सरकार की उपलब्धियों का विज्ञापन जारी नहीं होगा। घोषणा, उद्घाटन, लोकार्पण भी नहीं होंगे। सीएम-मंत्री रूटीन के काम ही करेंगे।

बीजेपी के लिए जीतना बड़ी चुनौती

महाराष्ट्र-हरियाणा और झारखंड तीनों राज्यों में बीजेपी की सरकार है। बीजेपी के सामने इन राज्यों में वापसी की चुनौती है तो महाराष्ट्र में कांग्रेस-एनसीपी, झारखंड में जेएमएम और हरियाणा में कांग्रेस सत्ता में लौटने के लिए जोरदार कोशिश कर रही है।महाराष्ट्र में विधानसभा की 288 सीटें हैं, जबकि हरियाणा में 90 सीटें है, झारखंड में विधानसभा की 81 सीटें हैं। महाराष्ट्र में कांग्रेस और एनसीपी ने गठबंधन की घोषणा कर दी है। वहीं बीजेपी और शिवसेना के बीच गठबंधन पर बातचीत चल ही रही है।

झाबुआ में उपचुनाव

इसी के साथ आयोग द्वारा एमपी के  झाबुआ विधानसभा उपचुनाव की भी तारीख का ऐलान किया गया है। अब झाबुआ और चित्रकोट में 21 अक्टूबर को मतदान होंगें और 24 अक्टूबर को नतीजे आएंगे। यह सीट जीएस डामोर के बीजेपी सांसद बनने के बाद खाली हुई है। दोनों दलों ने तैयारियां शुरु कर दी है। हालांकि अभी तक कांग्रेस-बीजेपी ने अपने उम्मीदवारों के नाम का ऐलान नही किया है।

"To get the latest news update download tha app"