BJP में बड़ा बदलाव, पुनिया को राजस्थान और जायसवाल को बिहार का अध्यक्ष बनाया

नई दिल्ली।

एक बार फिर बीजेपी में बड़ा बदलाव किया गया है।भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने सांसद डॉक्टर संजय जायसवाल को बिहार और आमेर से विधायक व प्रदेश प्रवक्ता संजय पुनिया को राजस्थान का प्रदेशाध्यक्ष बनाया गया है।संभावना जताई जा रही है कि जल्द मध्यप्रदेश समेत अन्य राज्यों मे भी अध्यक्ष बदले जा सकते है।

संजय जायसवाल अभी बेतिया के सांसद हैं। 2009 से लगातार तीसरी बार सांसद चुने गए संजय जायसवाल के पिता मदन मोहन जायसवाल भी बेतिया के सांसद रहे हैं।  संजय जायसवाल राजनीतिक परिवार से आते हैं।इनके पिता डॉ मदन प्रसाद जायसवाल भी तीन बार सांसद रहे। संजय जायसवाल की पहचान साफ छवि के नेता के तौर पर है।29 नवंबर, 1965 को जन्मे संजय जायसवाल दिवंगत नेता मदन प्रसाद जायसवाल के बेटे हैं, उनके पिता भी बेतिया से तीन बार लोकसभा सांसद रहे हैं. संजय जायसवाल ने उनकी ही विरासत को आगे बढ़ाया है। 54 साल के डॉ. जायसवाल की पहचान कुशल चिकित्सक के रूप में भी होती है। संजय जायसवाल भाजपा के कोर वोट बैंक माने जाने वाले वैश्य समुदाय से हैं। इनको अध्यक्ष बनाकर भाजपा ने पिछड़ा कार्ड भी खेला है।

वही भाजपा के लगातार चार बार प्रदेश महामंत्री रह चुके पूनिया नए अध्यक्ष की सोशल इंजीनियरिंग में सबसे फिट बैठे। उन्हें संघ पृष्ठभूमि का भी माना जाता है। पूनिया लो-प्रोफाइल जाट नेताओं में गिने जाते हैं।  पूनिया लगातार 14 साल तक भाजपा के प्रदेश महामंत्री रहे हैं। मूलतया चूरू जिले के निवासी सतीश पूनिया छात्र काल से ही अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से जुड़े रहे हैं, उसके बाद वे बीजेपी में सक्रिय राजनीति से जुड़े. वे संगठन में कई अहम जिम्मेदारियां निभा चुके हैं।पूनिया लंबे समय तक संगठन में महामंत्री रहे हैं। वे इस बार जयपुर की आमेर विधानसभा से विधायक चुने गए हैं। पूनिया को केन्द्रीय नेताओं से बेहतर तालमेल के लिए जाना जाता है।  राजस्थान भाजपा के अध्यक्ष मदन लाल सैनी का निधन 24 जून को हो गया था। तभी से यह पद खाली था। अक्टूबर और नवंबर में राजस्थान के नगरीय निकायों के चुनाव है, ऐसे में प्रदेश अध्यक्ष की नियुक्ति का इंतजार था। 


"To get the latest news update download tha app"