पूर्व सीएम ने BJP ज्वाइन कर सबकों चौंकाया, चुनाव ना लड़ने का किया ऐलान

लखनऊ।

इन दिनों देश की राजनीति में जमकर उथल पुथल मची हुई है। नेता मौके की नजाकत को देखते हुए यकायक पार्टी बदल रहे है। अब राजस्थान के पूर्व राज्यपाल और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रह चुके कल्याण सिंह भाजपा मे शामिल हो गए है।87 वर्षीय कल्याण सिंह ने उत्तर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह की मौजूदगी में एक बार फिर पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। इस दौरान उनके बेटे एवं एटा से सांसद राजवीर सिंह और प्रदेश के वित्त राज्यमंत्री और उनके पौत्र संदीप सिंह भी मौजूद थे।

कल्याण सिंह ने हाल ही में राजस्थान के राज्यपाल के तौर पर अपना कार्यकाल पूरा किया है।कल्याण सिंह ने करीब पांच साल पहले राजस्थान का राज्यपाल बनने के बाद भाजपा की सदस्यता से त्यागपत्र दे दिया था। पांच साल राजस्थान का राज्यपाल रहने के बाद उनका कार्यकाल पिछले तीन सितंबर को पूरा हुआ था।  कल्याण सिंह भारतीय जनता पार्टी के राम मंदिर आंदोलन का प्रमुख चेहरा रहे हैं, उनकी पार्टी में वापसी को एक बार फिर पार्टी की राम मंदिर मुद्दे को धार देने की कोशिश के तौर पर भी देखा जा रहा है।

लखनऊ में प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए  कल्याण सिंह ने कहा मेरा तन टायर्ड नहीं है, मन रिटायर नहीं है। मैं राजनीति को जनसेवा का सशक्त माध्यम मानता हूं। उसी भावना से मैंने फिर से सक्रिय राजनीति में प्रवेश करने का फैसला किया है। जब तक मैं राज्यपाल रहा तब तक मैंने उस पद की गरिमा का पूरा ख्याल रखा। मैं बतौर राज्यपाल कुछ नहीं बोलता था, लेकिन हर रोज डेढ़ घंटा यूपी की जानकारी लेता रहता था। सरकार के लिए सहयोग करता रहूंगा। मैं बीजेपी को मजबूत करने के लिए काम करता रहूंगा। मैं आगे चुनाव नहीं लड़ूंगा। मैंने बहुत चुनाव लड़ा और कार्यकर्ताओं का खूब प्यार भी मिला।

योगी की तारीफ

उन्होंने सीएम योगी की तारीफ करते हुए कहा कि  यूपी में योगी आदित्यनाथ का कोई विकल्प नहीं है। जब से योगी आदित्यनाथ ने मुख्यमंत्री का पद संभाला है, प्रदेश में बड़ा परिवर्तन आया है। विकास की गति तेज हुई है। उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था संतोषजनक है। योगी के कार्यकाल में प्रदेश अभी तक कोई दंगा नहीं हुआ है, यह बड़ी बात है।



"To get the latest news update download tha app"