स्कूल एजुकेशन रैंकिंग में केरल टॉप पर, मप्र का 15वां स्थान

नई दिल्ली | स्कूलों में अच्छी शिक्षा के मामले में केरल ने सभी राज्यों को पीछे छोड़ते हुए पहली रैंक हासिल की है| नीति आयोग की पहली स्कूल एजुकेशन रैंकिंग जारी की गई है। नीति आयोग के स्कूल एजुकेशन क्वॉलिटी इंडेक्स में टॉप पर केरल है। 20 बड़े राज्यों में 76.6 फीसदी स्कोर के साथ केरल ने पहला स्थान हासिल किया है जबकि उत्तर प्रदेश 36.4 फीसदी स्कोर के साथ सबसे निचले पायदान पर है। वहीं मध्य प्रदेश 15 वें स्थान पर है| 

नीति आयोग के आंकडों के मुताबिक बड़े राज्यों में केरल नंबर एक पर और राजस्थान दूसरे नंबर पर है. जबकि कर्नाटक को तीसरा स्थान तो उत्तर प्रदेश को बीस बड़े राज्यों में आखिरी नंबर मिला है| 

शिक्षा तक पहुंच और समानता में तमिलनाडु टॉप पर है, वहीं सीखने के मामले में कर्नाटक सबसे आगे है। इंफ्रास्ट्रक्चर और सुविधाओं में हरियाणा अव्वल है। छोटे राज्यों में, मणिपुर की परफॉर्मेंस सबसे अच्छी रही, वहीं त्रिपुरा दूसरे और गोवा तीसरे नंबर पर है। केंद्र शासित राज्यों में चंडीगढ़ ने टॉप किया। इस लिस्ट में दादर और नगर हवेली दूसरे और दिल्ली तीसरे नंबर पर है। यह इंडेक्स 2016-17 के सर्वे के डेटा को इस्तेमाल करके तैयार किया गया है। इंडेक्स में स्कूली शिक्षा के मामलों में राज्यों का मूल्यांकन शिक्षा का स्तर, शिक्षा तक पहुंच, शिक्षा में समानता और शिक्षा से संबंधित आधारभूत ढांचों और सुविधाओं के आधार पर किया गया।

यह है रैंक 

1. केरल

2. राजस्थान

3. कर्नाटक

4. आंध्र प्रदेश

5. गुजरात

6. असम

7. महाराष्ट्र

8. तमिलनाडु

9. हिमाचल प्रदेश

10. उत्तराखंड

11. हरियाणा

12. उड़ीसा

13. छत्तीसगढ़

14. तेलंगाना

15. मध्य प्रदेश

16. झारखंड

17. बिहार

18. पंजाब

19. जम्मू कश्मीर

20. उत्तर प्रदेश

"To get the latest news update download tha app"