मंत्री उमंग सिंघार के समर्थन में उतरे आदिवासी संगठन, सोनिया गांधी को लिखा पत्र

भोपाल। मध्य प्रदेश के वन मंत्री उमंग सिंघार द्वारा दिग्विजय सिंह पर लगाए गए आरोपों के बाद राजधानी भोपाल में उनके बंगले के सामने कुछ आसामाजिक तत्वों ने खुद को दिग्गी समर्थक बताते हुए उमंग का पुतला दहन किया था। इस घटना को लेकर अब आदिवासी संगठन उमंग के बचाव में उतर आए हैं। अखिल राजगोंड़ महासभा और जय आदिवासी युवा शक्ति (जयस)  और संयुक्त आदिवासी सामाजिक संगठन ने कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र लिखे हैं। इसमें उन्होंने पुतला दहन करने वाले आरोपियों पर मामला दर्ज करने की मांग की है। 

पत्र ने लिखा है कि उमंग सिंघार आदिवासी समाज का बड़ा चेहरा हैं। उनका पुतला दहन किया है। जिससे आदिवासी समाज में काफी रोष है। इस प्रकार की घटना से समाज को जहां एमपी शासन द्वारा प्रोत्साहित कर उन्हें आगे लाने के प्रयास किए जा रहे हैं वहीं, दूसरी ओर अन्य समाज व असामाजिक तत्वों द्वारा पुतला दहन कर उनका मनोबल को गिराने के प्रयास किए जा रहे हैं। इस प्रकार की घटना की हम कड़े शब्दों में निंदा करते हैं। 

संगठन ने चेतावनी भर लहजे में कहा है कि अगर दोषियों के खालिफ कार्रवाई नहीं की गई तो आने वाले समय में उप चुनाव में कांग्रेस को भारी नुकसान होने की संभावन से इंकार नहीं किया जा सकता है। 

"To get the latest news update download tha app"