दलदल भरे रास्ते को पार कर स्कूल जाते हैं यह छात्र, मंत्री का क्षेत्र होने के बाद भी बदहाल

सागर। विनोद जैन। 

एक तरफ जहाँ शिक्षा विभाग का नारा है कि स्कूल चलें हम और कांग्रेस का नारा है सबका साथ सबका विकास लेकिन यह नारे धरातल पर कहीं भी चरितार्थ होते नहीं दिख रहीं हैं। ऐसा ही नजारा दिखाने हम आपको लेकर चल रहे हैं मध्यप्रदेश के सागर जिले की सुरखी विधानसभा में जहां एक गांव ऐसा भी है जो अभी भी विकास के वादों की मार झेल रहा है।

वह गांव है सुरखी से 3 किलोमीटर दूर जिसका नाम है बंदरचुआ जो हनौताकलां ग्राम पंचायत के अंतर्गत आता है जिसके विधायक हैं मध्यप्रदेश के राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत इसके पूर्व में भी यहां से विधायक रहे हैं पूर्व ग्रह एवं परिवहन मंत्री भूपेन्द्र सिंह और इसी ग्राम पंचायत की सरपंच भी भूपेन्द्र सिंह की बहिन जी भी रह चुकीं हैं। लेकिन इन आदिवासियों के जीवन स्तर में कोई विकास नहीं हुआ।

अब हम आपको दिखा रहे हैं कुछ ऐंसी तस्वीरें जिन्हें देखकर मानवता भी शर्मशार हो जाए आप देख सकते हैं कि किस तरह यह कक्षा से बारहवीं तक के बच्चे कैंसे तीन किलोमीटर का सफर तय करके पढ़ने जाते हैं जो घुटनों तक दलदल और पानी में धंसे हुये हैं अब आप अंदाजा लगायें कि अगर इस गांव में कोई गंभीर रुप से बीमार हो जायें तो वह इलाज कराने पहुँच पायेगा या गांव में ही दम तोड देगा।

"To get the latest news update download tha app"