सरकार के खिलाफ 'घंटा' बजाएगी भाजपा, प्रदेश भर में होगा आंदोलन

भोपाल। मप्र सरकार के मंत्रियों द्वारा सत्ता और संगठन के खिलाफ दिए जा रहे बयानों को लेकर भाजपा कमलनाथ सरकार की घेराबंदी करने जा रही है। भाजपा द्वारा 11 सितंबर को प्रदेश भर में 'घंटानाद' आंदोलन करेगी। जिसमें पार्टी की ओर से सभी जिलों में सभा एवं धरना प्रदर्शन किए जाएंगे। इस दौरान पार्टी नेता कमलनाथ सरकार को भ्रष्टाचार एवं मंत्रियों के विवादित बयाानों को लेकर हमला बोलेंगे। इसके अलावा फसलों नुकसान का मुआवजा किसानों को दिलवाने प्रदर्शन किया जाएगा| 

प्रदेश कांग्रेस में मंत्रियों के विवादित बयानों की लंबी श्रृंखला है। किसी भी मंत्री ने विपक्ष पर निशाना नहीं साधा, बल्कि सरकार की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाया है। विपक्ष की ओर से मंत्रियों के बयानों की रिकॉर्डिंग, कटिंग आदि को लेकर पोस्टर भी तैयार किए हैं। जिन्हें सभा स्थल पर प्रदर्शित किया जाएगा। पार्टी के नेता सीधे तौर पर मुख्यमंत्री कमलनाथ पर भ्रष्ट तंत्र को समर्थन देने के आरोप लगाएंगे। जिसमें मंत्री डॉ गोविंद सिंह, उमंग सिंघार, गोविंद सिंह राजपूत एवं कांग्रेस विधायकों द्वारा गृह मंत्री बाला बच्चन, स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट पर लगाए गए आरोपों के आधार पर कमलनाथ सरकार पर भ्रष्टाचार को संरक्षण देने के आरेाप लगाए जाएंगे। पिछले 9 महीने के दौरान भाजपा का कमलनाथ सरकार के खिलाफ यह पहला बड़ा आंदेालन होने जा रहा है। जिसे भाजपा ने घंटानाद नाम दिया है। धरना -प्रदर्शन के दौरान भाजपा नेता हाथ में घंटा लेकर भी चलेंगे। 


इनके बयानों को भुनाएगा विपक्ष

हाल ही में एक दर्जन करीब मंत्री, विधायकों ने विवादित बयान दिए हैं और उन पर भ्रष्टाचार के आरेाप लगे हैं। विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस शिवराज सरकार पर अवैध खनन के आरोप लगाती थी। जीएडी मंत्री डॉ गोविंद के बयान से अवैध उत्खनन मामले में कमलनाथ सरकार भी विपक्ष के निशाने पर हैं। मंत्री ने बयान दिया था कि रेत के अवैध उत्खनन में शामिल थानेदार 60 लाख रुपए महीना कमा रहे हैं। मंत्री उमंग सिंघार ने पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह पर शराब एवं अवैध उत्खनन में शामिल होने के आरोप लगाए। कांग्रेस विधायकों ने मंत्री तुलसी सिलावट एवं गृहमंत्री बाला बच्चन पर कथित घूस के आरोप लगाए। वहीं सपा विधायक राजेश शुक्ला ने भ्रष्टाचार को लेकर पूरी सरकार को घेरा है। मंत्री, विधायकों के इन बयानों को विपक्ष भुनाने की तैयारी में है। 


सोशल मीडिया पर भी हमला तेज

भाजपा घंटानाद आंदोलन के तहत प्रदेश भर में सरकार के खिलाफ आंदोलन करेगी। सोशल मीडिया पर भी सरकार पर हमला तेज होगा। अगले कुछ दिनों के भीतर भाजपा के किसान मोर्चा समेत अन्य मोर्चा भी सक्रिय होंगे। कमलनाथ सरकार को सोशल मीडिया पर बदनाम करने की तैयारी होगी। 


8 महीने में कमलनाथ सरकार हर मोर्चे पर विफल रही है। मंत्री और कांग्रेस के नेता संसाधनों की लूट में लगे हैं। मंत्री और विधायकों के बयान इसी लूट की हिस्सेदारी को लेकर हैं। विपक्ष सरकार पर जो आरोप लगा रहा है, सरकार के मंत्रियों के बयानों से वे सही साबित हो रहे हैं। 

दीपक विजयवर्गीय, मुख्य प्रवक्ता, मप्र भाजपा 

"To get the latest news update download tha app"