ग्वालियर-चम्बल के तूफानी दौरे पर सिंधिया, ऐसा रहेगा कार्यक्रम

ग्वालियर। कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया सोमवार शाम निजामुद्दीन एक्सप्रेस से ग्वालियर पहुँच रहे हैं । वे 7 अक्टूबर से 15 अक्टूबर तक ग्वालियर चम्बल अंचल में रहेंगे। यहाँ वे विधायकों, कार्यकर्ताओं, पदाधिकारियों, पूर्व  सांसद, पूर्व विधायकों से मुलाकात करेंगे| कई कार्यक्रमों में शामिल होंगे। इस दौरान वे अपने धुर विरोधी दिग्गी समर्थक वरिष्ठ मंत्री डॉ गोविन्द सिंह के घर भी जायेंगे। दौरे की शुरुआत देवी पूजन के साथ होगी। 

अपने गृह नगर ग्वालियर और प्रभाव वाले ग्वालियर चम्बल अंचल में पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह की बढ़ती सक्रियता के बीच ज्योतिरादित्य सिंधिया आज शाम निजामुद्दीन जबलपुर एक्सप्रेस से चलकर शाम को ग्वालियर पहुंचेंगे। जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष डॉ देवेन्द्र शर्मा के नेतृत्व में कांग्रेस पदाधिकारी, कार्यकर्ता उनका जोरदार स्वागत करेंगे। स्टेशन से सिंधिया सीधे जयविलास पैलेस पहुंचेंगे। कुछ देर विश्राम करने के बाद रात 8 बजे सिंधिया फूलबाग के पास  मानस भवन में बंगाली समाज के दुर्गा पूजा कार्यक्रम में शामिल होंगे। यहाँ से फ्री होने के बाद सिंधिया छत्री बाजार पहुंचेंगे जहाँ वे रामलीला समारोह में शामिल होंगे उसके बाद जयविलास पैलेस लौटेंगे । 

शमी पूजन की रियासतकालीन परंपरा निभाएंगे

8 अक्टूबर को दिन में अपने निजी कार्यक्रमों के अलावा दिन में शिवाजी पार्क में मराठा समाज के दशहरा कार्यक्रम में शामिल होंगे और शाम को 5 बजे मांढरे वाली माता के नीचे वाले मैदान में शमी पूजन करेंगे। ये कार्यक्रम सिंधिया राजवंश का पारंपरिक कार्यक्रम है। जो रियासतकाल से चला आ रहा है। 9 अक्टूबर को सिंधिया दाल बाजार में जियाजी सदाव्रत कार्यक्रम में पहुंचेंगे जहाँ वे नए सत्संग भवन का शुभारम्भ करेंगे । 10 अक्टूबर को सिंधिया भिंड जायेंगे । यहाँ वे जनसंपर्क करेंगे जिला अध्यक्षों , पूर्व अध्यक्षों, ब्लाक कमेटी ,मंडलम अध्यक्षों से मुलाकात करेंगे। इस दौरान महिला कांग्रेस की पदाधिकारी भी शामिल होंगी। सुबह 10 बजे से रात 8 बजे तक मुलाकात का सिलसिला जारी रहेगा। इस दौरान कार्यकर्ताओं के साथ ही लंच लेंगे । 


चौधरी राकेश सिंह और गोविन्द सिंह से मुलाकात पर रहेगी सबकी नजर

मुलाक़ात के इस सिलसिले में हाशिये पर पड़े वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मंत्री चौधरी राकेश सिंह से भी सिंधिया मुलाक़ात करेंगे । इसके अलावा अपने धुर विरोधी और दिग्विजय समर्थक वरिष्ठ मंत्री गोविन्द सिंह के घर जाकर भी सिंधिया मुलाक़ात करेंगे। इन दोनों मुलाकातों को बहुत महत्वपूर्ण माना जा रहा है। और मीडिया सहित राजनैतिक पंडितों की इसपर नजर  रहेगी। 

मुरैना, श्योपुर, शिवपुरी भी जायेंगे

 11 अक्टूबर को 15 अक्टूबर तक ज्योतिरादित्य सिंधिया मुरैना, श्योपुर और शिवपुरी के दौरे पर रहेंगे इस दौरान कार्यकर्ताओं, जिला अध्यक्षों, पूर्व पदाधिकारियों से मुलाकात करेंगे। उनके साथ लंच करेंगे। मुरैना के करुआ गाँव में मिनी स्टेडियम का शुभारम्भ करेंगे। सिंधिया के 9 दिवसीय  इस दौरे को बहुत महत्वपूर्ण माना जा रहा है। राजनैतिक पंडितों का मानना है कि अपने गढ़ में दिग्विजय सिंह की बढ़ती सक्रियता के चलते सिंधिया समर्थकों को भरोसा दिलाना चाहते हैं कि उनकी ताकत कम नहीं हुई है साथ ही धुर। विरोधियों से मुलाकात कर ये मैसेज भी देंगे कि उनके लिए कांग्रेस के सभी लोग बराबर हैं। अब देखना ये होगा कि सिंधिया का ये तूफानी दौरा राजनीति की हलचल को कितना तेज करता है।

"To get the latest news update download tha app"