महिला ने बच्ची को पालने से किया इंकार, पति पर लगाया गंभीर आरोप

ग्वालियर।

मध्यप्रदेश के ग्वालियर में एक चौकाने वाला मामला सामने आया है। यह मामला ग्वालियर में बाल कल्याण समिति के पास आया है। एक महिला एक छोटी सी बच्ची को समिति को यह कहते हुए सौंप कर चली गई है कि यह बच्चा उसका नहीं है। उस बच्ची को उसके पति व जिस महिला ने इस बच्ची को जन्म दिया वे 3 महीने पहले मेरे पास इस बच्ची को छोड़कर कही चले गए है। मैं इस बच्ची का अब पालन पोषण नहीं कर सकती। बाल कल्याण समिति ने बच्ची को अपनी सुरक्षा में लेकर उसे शासकीय गृह में लालन-पालन के लिए भेज दिया है। जुवेनाइल पुलिस को इस मामले की जांच के करने के आदेश दे दिए हैं।

बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष के के दीक्षित ने बताया कि बीते दिन एक महिला समिति के पास आई थी, उसके पास 6 माह की एक बच्ची थी। महिला का कहना था कि यह बच्ची उसके पति के दूसरी महिला से जन्मी है। उसका पति उसके साथ ना रहते हुए उसी महिला के साथ रहता था।

तकरीबन तीन माह पहले पति और वह दूसरी महिला दोनों ही घर आए। उसके पति ने कहा कि इस महिला को एक-दो दिन यहां रहने दो फिर यह चली जाएगी। बच्ची को तुम संभाल लो, इसके बाद दोनों दो दिन बाद उसे बिना बताए कही चले गए और उस बच्ची को पहली पत्नी के पास ही छोड़ गए। महिला का कहना है कि "तीन माह से मैं इस बच्ची का पालन कर रही हूं। मेरी स्थिति ऐसी नहीं कि मैं इस बच्ची का पालन कर सकूं।" अब बच्ची की स्थिति को देखते हुए उसे तत्काल मेडिकल परीक्षण के लिए भेजकर सरकारी गृह में भेज दिया गया है। समिति के अध्यक्ष दीक्षित ने कहा है कि अब जुवेनाइल पुलिस की जांच रिपोर्ट के आधार पर ही समिति अगली कार्रवाई करेगी।

"To get the latest news update download tha app"