बेल्टों और ड़ंडो से दलित महिला को पीटा, मूकदर्शक बने रहे लोग, तीन गिरफ्तार

भोपाल। राजधानी एक बार फिर शर्मसार हो गई है। सोशल मीडिया पर एक वीडियों वायरल हो रहा है जिसमें 2 लड़के एक दलित महिला को बडी बेहरहमी से पीट रहे हैं। लड़के महिला को बेल्ट और डंडों से घसीटते हुए पीट रहे हैं और आस-पास खड़े लोग मूकदर्शक बने हुए देख रहे हैं।लेकिन कोई मदद के लिए सामने नहीं आया।मारपीट का जब यह वीडियों वायरल हुआ तब निशातपुरा थाना की पुलिस ने इस मामले पर संज्ञान लेते हुए।कार्रवाई की और 3 आरोपियों पर मामला दर्ज करते हुए उन्हे गिरफ्तार किया।

यह पूरा मामला प्रॉपर्टी का है शांति नगर इलाके मे रहने वाली महिला और दूसरा पक्ष दोनों ही एक ही प्लॉट को अपना बताते है। दोनों ही पक्ष के पास प्लाट की 2002 में तैयार नोटरी है, जब इलाके में रह रही 24 वर्षीय़ दलित महिला को शुक्रवार को पता चला कि दूसरा पक्ष उस प्लॉट पर निर्माण कार्य़ कर रहा है, तो उसने वहां अकेले पहुंच कर विरोध किया और आरोपियों पर पुलिस केस करने की धमकी दी। इस बात पर शुरू हुई बहस जल्द ही हाथापाई में बदल गई और बात इस हदतक चली गई कि आरोपियों ने ड़ड़ों से महिला की पीटाई करना शुरू कर दिया इस दौरान किसी ने वीडियो बना लिया और वीडियों के वायरल होने के बाद पुलिस ने इस मामले पर कार्रवाई की।

महिला से मारपीट के दौरान इंसानियत भी शर्मसार होती नजर आई। महिला पिटती रही, बचाने की गुहार लगाती रही, लेकिन उसे बचाने कोई आगे नहीं आया। इस दौरान लोग वीडियो बनाते रहे। हालांकि, इस पक्ष का कहना है कि सोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो के बाद ही पुलिस ने आनन-फानन में कार्रवाई की है।वहीं घटना की जानकारी मिलने के बाद निशातपुरा पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। तीनों आरोपियों का नाम किशन साहू, संजीव तिवारी और धर्मेंद्र विश्वकर्मा बताया जा रहा है, जिन्हें पुलिस ने महिला से मारपीट करने, उसे धमकाने और छेड़छाड़ करने के साथ ही एससी/एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है।




"To get the latest news update download tha app"