बीजेपी की बड़ी बैठक आज, 'महापौर चुनाव बिल' का विरोध करने बनेगी रणनीति

भोपाल। नगरीय निकाय चुनाव प्रणाली में बदलाव के अध्यादेश को राज्यपाल लालजी टंडन की मंजूरी मिलने के बाद महापौर और नगर निगम अध्यक्ष का चुनाव आम जनता नहीं कर सकेगी। नगरीय निकाय एक्ट में हुए परिवर्तन को लेकर गुरुवार को भाजपा की एक बड़ी बैठक होने जा रही है। जिसमें पार्टी के बड़े नेता पार्षदों के जरिए महापौर चुनाव वाले विधेयक को लेकर रणनीति पर चर्चा करेंगे। बैठक में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह, संगठन महामंत्री सुहास भगत सहित कई नगर निगम के महापौर भी शामिल होंगे। बैठक में विधेयक के विरोध और भाजपा की आगे की रणनीति पर विचार मंथन होगा।

वहीं पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नगरीय निकाय चुनाव प्रणाली में बदलाव किए जाने को लेकर प्रदेश की सरकार और मुख्यमंत्री कमलनाथ पर निशाना साधा है। बुधवार देर रात ट्वीटर के माध्यम से शिवराज ने मुख्यमंत्री कमलनाथ पर राजनीतिक लाभ के लिए राजधानी को दो हिस्सों में बांटने का आरोप लगाते हुए इसका कढ़ा विरोध किया है। 

शिवराज ने ट्वीट कर लिखा ‘ जिस तरह 1905 में अंग्रेज़ क्षत्रप लार्ड कर्जऩ ने बंगाल को धर्म के नाम पर विभाजित किया था, उसी तरह आज कांग्रेस के क्षत्रप मुख्यमंत्री सिर्फ़ अपनी राजनीतिक रोटियाँ सेकने के लिए हमारी प्रिय राजा भोज की झीलों की नगरी भोपाल को बाँट कर दो नगर निगम बनाने की सिफ़ारिश कर रहे है। शांति के टापू मध्यप्रदेश की राजधानी के सामाजिक और सांस्कृतिक ढाँचे को तोडऩे के इस प्रपंच का हम कड़ा विरोध करेंगे’।

शिवराज ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि प्रदेश की मुखिया कानून व्यवस्था को छोडक़र राजनीतिक स्वार्थ के लिए तुगलकी फरमान जारी कर रहे है। साथ ही शिवराज ने जनता से भी सरकार के इस फैसले का विरोध करने की अपील की है। एक अन्य ट्वीट कर उन्होंने लिखा ‘मैं भोपाल की जनता से अपील करता हूँ कि कांग्रेस की बरसों से चली आयी इस कर्जऩी डिवाइड एंड रूल पॉलिसी का हम सब मिलकर पुरजोर विरोध करें। कमलनाथजी राज्य की बिगड़ती कानून व्यवस्था, शहरों का विकास, किसानों की समस्या पर ध्यान देने की बजाय महापौर के चुनाव जीतने जैसे राजनीतिक स्वार्थ हेतु ऐसे तुगलकी फ़ैसले ले रहे है। प्रदेश के ज़रूरी मुद्दों से ध्यान भटकाने की यह हरकत से हम कभी भी विचलित नहीं होंगे। भोपाल एक था, एक है, और एक रहेगा।

"To get the latest news update download tha app"