भोपाल: खंडवा से आरोपी गिरफ्तार, रहवासियों ने घेरा थाना, CM ने किया आर्थिक सहायता का ऐलान

भोपाल।

भोपाल रेप और हत्या मामले में पुलिस ने बड़ी सफलता हासिल की है।पुलिस ने आरोपी विष्णु को खंडवा से गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी की गिरफ्तारी ओंकारेश्वर के पास से हुई है। पुलिस आरोपी को भोपाल लेकर आ रही है।एएसपी अखिल पटेल ने कहा है कि 48 घंटो में आरोपी के खिलाफ चालान पेश किया जाएगा। कोशिश रहेगी की 1 माह के अंदर आरोपी को सजा दिला सकें।वही आज सुबह बस्ती के लोगों ने नेहरू नगर चौराहा पर चक्काजाम किया और थाने का घेराव करते हुए आरोपी की फांसी की सजा देने की मांग की है।हालांकि सरकार ने पीडित परिवार को आश्वासन दिया है कि मामले को फास्ट ट्रैक कोर्ट चलाया जाएगा, ताकी अपराधी को जल्द सजा मिल सके।इधर, सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने भी आरोपी को फांसी देने की मांग की है।वही पूर्व सीएम शिवराज पीड़ित के परिवार से मिलने पहुंचे है।

इससे पहले रविवार को  घटना के बाद भोपाल आईजी योगेश देशमुख ने आरोपियों को पकड़ने के लिए 20 टीमें बनाई गई थीं और  20 हजार रुपए के इनाम की घोषणा भी की थी। आरोपी की तलाश में जगह जगह छापेमारी की जा रही थी। संदिग्धों से भी पूछताछ की गई थी।  सर्चिंग में बच्ची के पड़ोस में रहने वाला युवक विष्णु उर्फ बबलू घर से गायब मिला। पुलिस ने उसकी झुग्गी की तलाशी ली। वहां पुलिस को खून के धब्बे मिले। बच्ची की टूटी हुई चूड़ियों के टुकड़े और बाल भी मिले। तीन पुलिस टीम संदिग्ध आरोपित बबलू की तलाश में रवाना की गई हैं, उसकी लोकेशन उज्जैन की ओर मिली थी। कुछ टीमों को खंडवा भी भेजा गया था, आखिरकार खंडवा भेजी गई टीमों को सफलता हाथ लगी है और आज सुबह खंडवा के ओंकरेश्वर के गांव से उसकी गिरफ्तारी की।

सीएम ने दी आर्थिक सहायता देने की घोषणा

सीएम कमलनाथ ने पीड़ित बच्ची के परिजनों को आर्थिक सहायता देने की घोषणा है। सरकार की तरफ से बच्ची को  5 लाख रुपए की आर्थिक सहायता दी जाएगी । यह सहायत 24 घंटे में दी जाएगी। साथ ही सीएम ने कहा है कि दोषियों पर कड़ी कार्रवाई होगी, किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा। बच्ची को वापस तो नहीं ला सकते, लेकिन परिवार को न्याय दिलाने के लिए जरूरी कदम उठाए जाएंगे। वही सीएम ने उज्जैन पीड़ित परिवार को भी पांच लाख देने का ऐलान किया है।


गौरतलब है कि मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में रविवार सुबह एक मंडवा बस्ती के पास नाले में एक नौ साल की बच्ची का शव मिला था। बच्ची शनिवार रात 8 बजे से लापता थी। इसके बाद से ही परिजन उसकी तलाश कर रहे थे, इस बारे में कमला नगर थाना पुलिस को भी शिकायत की गई थी, लेकिन बच्ची का कोई सुराग नही मिला था और सुबह उनका शव नाले से बरामद किया गया था। पुलिस ने शव को निकालकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा था, जिसमें बच्ची के साथ दुष्कर्म के बाद गला दबाकर हत्या करने की बात सामने आई थी। घटना के बाद से ही लोगों में भारी आक्रोश है। कानून व्यवस्था पर सवाल उठ रहे है। लापरवाही के चलते छह पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है।



"To get the latest news update download tha app"