इंदौर में प्रियंका गांधी का रोड शो समाप्त, उत्साह से भरे कार्यकर्ता, साथ चला हजारों का हुजूम

इंदौर| मध्य प्रदेश में अंतिम चरण के चुनाव से पहले कांग्रेस ने बीजेपी के गढ़ में सेंध लगाने पूरी ताकत झोंक दी है| उज्जैन, रतलाम में सभा के बाद कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा इंदौर पहुंची| जहां कांग्रेस प्रत्यशी पंकज संघवी के समर्थन में रोड शो किया|  हालाँकि तय समय से यह रोड सवा घंटे की देरी से शुरू हुआ| राजमोहल्ला से राजबाड़ा तक लगभग 4 किलोमीटर के रास्ते पर निकले रोड शो में हजारों समर्थक उपस्थित थे। इससे पहले प्रियंका गांधी उज्जैन पहुंची और महाकाल के दर्शन कर पूजा अर्चना की| इसके बाद रतलाम पहुंची जहां एक जनसभा को सम्बोधित किया| इसके बाद इंदौर पहुंचकर उन्होंने एक भव्य रोडशो किया| अंतिम चरण की सीटों के मद्देनजर प्रियंका का दौरा अहम् माना जा रहा है, वहीं इंदौर में रोड शो से कांग्रेस कार्यकर्ताओं में जोश फूंकने की कोशिश की गई है| 

राजमोहल्ला से राजवाड़ा तक प्रियंका गांधी के इस रोड शो के लिए कांग्रेस ने पहले से तैयारी कर रखी थी| फूलों से सजे मिनी ट्रक पर सवार प्रियंका के साथ मुख्यमंत्री कमलनाथ और कांग्रेस प्रत्याशी पंकज संघवी मौजूद रहे। शहीद भगतसिंह की प्रतिमा पर माल्यार्पण के बाद यात्रा प्रारंभ हुई। प्रियंका के स्वागत के लिए राजमोहल्ला से राजवाड़ा तक 100 से अधिक मंच लगाए गए |  यह रोड शो मालगंज, नर्सिंह बाजार, बम्बई बाजार, गुरुद्वारा होते हुए लगभग 2 घंटे बाद राजवाड़ा पहुंचकर समाप्त हुआ। रोड शो के दौरान गली गली में शोर है चौकीदार चोर है के नारे लगते रहे। रोड शो के दौरान प्रियंका गांधी ने लोगों के साथ सेल्फी भी उतारी। शो में महिलाओं और युवतियों की भारी भीड़ रही।  एसपीजी की टीम ने रोड शो का पूरा रूट चेक करती जा रही थी। रोड शो के रास्ते पर लगभग 100 मंच लगाए गए थे। 

मोदी पर बोला हमला 

राजवाड़ा पर प्रियंका का संक्षिप्त भाषण हुआ जिसमें उन्होंने भाजपा पर जमकर निशाना साधा। राजबाड़ा पर प्रियंका ने कहा कि बड़ी-बड़ी बातें करने वाले नेेता से आप पूछिये कि उन्होंने अपाके लिए किया क्या है। जो आज बड़े बड़े वादे आपसे कर रहे हैं उनके घमंड को तोड़ दिजीए, उन्हें सबक सिखाईये, बहुत हो चुकी उनकी मनमानी, पिछले 5 साल से परेशान कर रखा है उन्होंने। अपने आप को तपस्वी कहने वाले हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को सबक सिखाना है। लोकतंत्र को बचाना है तो आपका वोट सही पार्टी और उम्मीदवार को दे। 


बीजेपी के सबसे मजबूत किले को ढहाने कांग्रेस ने झोंकी ताकत 

बीजेपी के मजबूत किलों में इंदौर भी शामिल है, जहां कांग्रेस के लिए जीतना आसान नहीं है| यहां से सुमित्रा महाजन  'ताई' लगातार आठ बार इंदौर सीट से ही सांसद रही हैं| उनके चुनाव मैदान में होने से इंदौर में कभी भी कमल नहीं मुरझाया | लेकिन इस बार ताई चुनाव नहीं लड़ रही हैं| शंकर लालवानी को भारतीय जनता पार्टी ने अपना उम्मीदवार बनाया है, जिनका मुकाबला कांग्रेस के पंकज संघवी से है| कांग्रेस यहां पूरी कोशिश कर रही है| पीएम मोदी की सभा के बाद अब कांग्रेस से प्रियंका गांधी रोड शो कर इंदौर की जनता का दिल जीतने की कोशिश कर रही हैं|