बीजेपी में मतदान के बाद समीक्षा का दौर शुरू, इन सीटों पर जीत का दावा

भोपाल।

मध्य प्रदेश में लोकसभा चुनाव के तीन चरण पूरे होने के बाद अब बीजेपी ने बूथवार और विधानसभा वार वोटों की गणना शुरू कर दी है। 2014 लोकसभा चुनाव के नतीजों और हाल ही में 21 सीटों पर हुई वोटिंग के आंकड़ों को लेकर बीजेपी समीक्षा में जुट गई है। पार्टी बढ़े हुए मत प्रतिशत का आंकलन कर रही है। 

पार्टी सूत्रों के मुताबिक, 'दमोह, जबलपुर, भोपाल, खजुराहो, शहडोल, सतना, सीधी, ग्वालियर, खरगोन और खंडवा के ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में मतदान के रुझान की समक्षा की जा रही है, जहाँ कांग्रेस और भाजपा के बीच कड़े मुकाबले की संभावना स्पष्ट है।' ग्वालियर, भोपाल, सतना, खंडवा और मुरैना में वोटिंग ट्रेंड ने बीजेपी की चिंता बढ़ा दी है। पार्टी के एक वरिष्ठ पदाधिकारी का कहना है कि, "हम इन सीटों के रूझानों की समीक्षा कर रहे हैं। हम यह जानने की कोशिश कर रहे हैं कि 2014 के मुकाबले में इस बार बढ़ा हुआ मत प्रतिशत पार्टी के पक्ष में है या नहीं। हमें शहरी क्षेत्रों में भी जनता के समर्थन की पूरी उम्मीद है हालांकि, वहां के वोटिंग ट्रेंड के बारे समीक्षा की जाना बाकी है।"

भाजपा नेताओं ने कहा कि अंतिम चरण में मतदान 19 मई को मालवा-निमाड़ क्षेत्र की आठ सीटों के मतदान के रूप में निर्णायक होगा। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दावा किया कि भाजपा चुनाव में क्लीन स्वीप करेगी। चौहान ने मंगलवार को संवाददाताओं से कहा, "हम मालवा-निमाड़ क्षेत्र की आठ सीटों सहित सभी 29 सीटें जीतेंगे।" 

इन सीटों पर जीत का दावा

मतदान के तीन चरणों में, लगभग सभी लोकसभा सीटों पर राज्य भर में मतदान प्रतिशत में वृद्धि देखी गई। मुरैना में 11.73% वृद्धि दर्ज की गई, जबकि ग्वालियर में 7.05% की वृद्धि दर्ज की गई। अन्य सीटों में भी भोपाल 7.86%, दमोह 10.53%, सतना 8.07%, सीधी 12.49%, मंडला 10.91% और बालाघाट 9.15% की वृद्धि हुई। भाजपा नेताओं ने कहा कि भिंड, सागर, विदिशा, राजगढ़, टीकमगढ़, खजुराहो, रीवा, होशंगाबाद, शहडोल और जबलपुर में मतदान का रुझान पार्टी के उम्मीदवार के पक्ष में है क्योंकि बड़ी संख्या में लोगों ने पार्टी को वोट दिया है।


"To get the latest news update download tha app"