मध्य प्रदेश का बढ़ेगा कद, कैलाश हो सकते हैं बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी में मध्य प्रदेश का कद और बढ़ने की प्रबल संभावना है। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के गृह मंत्री बनने के बाद वह ज्यादा दिन तक अध्यक्ष पद पर नहीं बने रह सकते। एक व्यक्ति एक पद के सिद्धांत के चलते शाह की जगह किसी और को पार्टी की कमान सौंपी जाएगी। ऐसे में नए अध्यक्ष पद के लिए सबसे ज्यादा चर्चा में नाम बीजेपी राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय का चल रहा है। उन्होंने बंगाल की कमान संभालने के बाद नतीजों से सबको चौंका दिया है। वह लगातार बंगाल में पार्टी को मजबूत करने के लिए काम कर रहे हैं। हालांकि, दो और वरिष्ठ नेताओं का नाम भी इस दौड़ में शामिल है। इनमें जीपी नड्डा और भूपेंद्र यादव भी हैं। तीनों ही संगठन के मामलों में माहिर माने जाते हैं। इनका चुनावी मैनेजमेंट का कोई तोड़ नहीं है। 

पार्टी अध्यक्ष पद का फैसला अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लेंगे। कैलाश विजयवर्गीय और उनके करीबियों को इस बात की उम्मीद जरूर है कि उन्हें पश्चिम बंगाल में मिली सफलता का तोहफा अध्यक्ष के रूप में दिया जा सकता है। लोकसभा चुनाव के नतीजों ने पूरे देश को चौंका दिया है। शाह के केंद्रीय गृह मंत्री बनने के बाद भाजपा में राष्ट्रीय अध्यक्ष चुनने के लिए कवायद शुरू हो गई है। इस दौड़ में कैलाश का नाम आगे चल रहा है। इनके अलावा बिहार और गुजरात के चुनाव प्रभारी भूपेंद्र यादव भी दावेदार हैं। 

शाह का विकल्प साबित हो सकते हैं कैलाश

भाजपा सूत्रों का कहना है कि पीएम मोदी की मजर में शाह का कोई अच्छा विकल्प है तो वह कैलाश विजयवर्गीय हैं। जिस तरह उन्होंने बंगाल में ममता से शेर की तरह पंजा लड़ाकर बंगाल से भाजपा की झोली में 18 सीटे ला दी, उससे संघ और पीएम, शाह भी खुश हैं। सूत्र बताते हैं कि संघ भी विजयवर्गीय के नाम पर सहमत है। उनकी कार्यकर्ताओं में भी अच्छी पैठ मानी जाती है। 

"To get the latest news update download tha app"