VIDEO:कांग्रेस नेता ने दी सस्पेंड कराने की धमकी, SI बोली-मंत्री की भतीजी हूं, करवा के दिखाओ

इंदौर।

15 साल बाद सत्ता का स्वाद चखने वाली कांग्रेस के नेताओ को सत्ता का बुखार सिर चढ़कर बोल रहा है। इसी का परिणाम है कि आये दिन कांग्रेसी कुछ ऐसा कर जाते है जो उन पर ही सवाल उठाने के लिए काफी है। बता दे कि प्रदेश में कांग्रेस सरकार बनने के बाद अप्रैल माह में मंत्री सज्जन सिंह वर्मा के भतीजे अभय वर्मा की यातायात सूबेदार सोनू वाजपेयी से तीखी बहस हुई थी जिसके कुछ समय यातयातकर्मी का तबादला हो गया था। 

अब ताजा मामला भी इंदौर का ही जहां युवक कांग्रेस के अध्यक्ष देवेन्द्र सिंह यादव को चालानी कार्रवाई से इतना गुस्सा आया कि उन्होंने बखेड़ा खड़ा कर दिया। पूरा मामला इंदौर एयरपोर्ट के सामने का जहां यातयात पुलिसकर्मी सब इंस्पेक्टर उज्जमा खान के नेतृत्व में आरक्षक आशीष सोनी व एक अन्य सिपाही के साथ चैकिंग कर चालानी कार्रवाई कर रही थी। इसी दौरान शिकायत मिलने पर युवक कांग्रेस के अध्यक्ष देवेंद्र सिंह यादव मौके पर पहुंचे और उन्होंने चालान के नाम पर अवैध वसूली की शिकायत मौजूदा स्टॉफ से की। इसके बाद स्टॉफ ने भी यादव को जमकर खरी खोटी सुनाई बात यहां तक बढ़ गई की सब इंस्पेक्टर उज्जमा खान को देवेंद्र सिंह यादव को छोटा बताने के लिये केबिनेट मंत्री और कद्दावर नेता आरिफ अकील का नाम लेना पड़ा। 

उज्जमा खान ने बताया कि वो आरिफ अकील की भतीजी है। इस पर यादव और भड़क उठे और उन्होंने उज्जमा खान सहित आरक्षक आशीष सोनी पर अपना राजनीतिक प्रभाव दिखाते हुए जमकर लताड़ लगाई। इसके बाद यादव के समर्थक एकत्रित होने लगे और सभी ने नारेबाजी शुरू कर दी हालांकि इस बीच यादव के गुस्से को शांत करने के लिए यातायात पुलिस के अन्य लोग जुटे रहे। आखिर में देवेंद्र यादव ने यातयात डीएसपी हरिसिंह रघुवंशी से बात कर आम लोगो की समस्या बताई और कहा कि कागजात पूरे होने के बावजूद अवैध वसूली की जा रही है और आम जनता परेशान हो रही है। हालांकि पुलिस मामले में किसी नतीजे पर नही पहुंच पाई है लेकिन कांग्रेसी नेता से उलझने के बाद तबादले की तलवार बहस के दौरान मौजूद पुलिसकर्मियों पर लटक रही है।

बता दे कि केंद्र सरकार द्वारा यातायात नियमो का कड़ाई से पालन कराने के लिए नए नियम लागू कर दिए है वही मध्यप्रदेश में अभी नया नियम सड़को पर लागू नही किया गया है ऐसे में इसके पहले ही विवादित मामला सामने आ गया है जिसके बाद लग रहा है कि यदि नए नियमो के तहत चालानी कार्रवाई हुई तो ऐसे नजारे आम होंगे। इधर, कांग्रेस के कद्दावर नेता आरिफ अकील की पहचान बताने वाली महिला सब इंस्पेक्टर पर कार्रवाई तय मानी जा रही है क्योंकि वो भी ड्यूटी के दौरान राजनीतिक प्रभाव दिखाती नजर आई थी। वही देवेंद्र यादव ने अब यातायात पुलिस के खिलाफ मोर्चा खोल ये साफ कर दिया है कि वो अब चालानी कार्रवाई पर आने वाले दिनों में राजनीति करते नजर आएंगे।



"To get the latest news update download tha app"