बिजली कटौती पर कांग्रेस विधायक कड़क, बोले -'ऊर्जा मंत्री की जगह मैं होता तो अफसर जेल में होते'

भोपाल। मध्य प्रदेश में बिजली संकट लगातार गहराता जा रहा है। लगातार हो रही कटौती से शहरवासी परेशान हैं। विपक्ष भी सरकार का घेराव कर रहा है अब कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद ने भी बड़ा हमला बोला है। उन्होंने सीधे ऊर्जा मंत्री को चुनौती दी है। उन्होंने कहा कि अफसर बिजली कटौती कर रहे हैं। जबकि सरकार साफ तौर पर हिदायत दे चुकी है कि कहीं भी अघोषित कटौती नहीं होनी चाहिए। उन्होंने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि पुराने शहर के कई इलाकों में ईद वाले दिन भी बिजली काटी गई। अगर मैं ऊर्जा मंत्री की जगह होता तो अब तक बिजली अफसर जेल में होते। उन्होंने कहा कि अगर कुछ गलत होगा तो वह लगातार आवाज़ उठाएंगे।


दरअसल, शुक्रवार को राजधानी भोपाल की मध्य विधानसभा से कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद ने पुराने भोपाल के बिजली विभाग के महाप्रबंधक से की मुलाकात। वह यह जानने गए थे कि जब सरकार ने बिजली कटौती को लेकर सख्त निर्देश दिए हैं तब भी उनके क्षेत्र में बिजली कटौती लगातार की जा रही है। जिस पर अफसर मेंटेनेंस करने की बात कहकर पलड़ा झाड़ रहे हैं। आरिफ मसूद ने कहा कि बिजली कटौती कर प्रदेश सरकार को बिजली विभाग के अधिकारी  बदनाम कर रहे हैं। उन्होंने ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह से मीडिया के माध्यम से ऐसे अधिकारियों पर मामला दर्ज करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि कटौती करने वाले कर्मचारियों के ऊपर मामला दर्ज किया जाए। उन्होंने कहा कि ऊर्जा मंत्री की जगह मैं होता तो अभी तक जेल पहुंचा दिया होता। 

गौरतलब है कि बिजली कटौती को लेकर शहरवासी समेत पूरा प्रदेश गंभीर समस्या से जूझ रहा हैं। हाला ही में मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बिजली विभाग के सभी अफसरों को सख्त निर्देश दिए थे कि प्रदेश में कहीं भी बिना किसी कारण बिजली कटौती नहीं की जाए। लेकिन प्रदेश में लगातार बिजली कटौती जारी है। जिस पर सरकार का कहना है कि ऐसा विपक्ष द्वारा सरकार को बदनाम कराने के लिए किया जा रहा है। जिससे सरकार की छवि खराब की जा सके। 



"To get the latest news update download tha app"