कैबिनेट मंत्री का बड़ा हमला, 'जिनके बाप दादा ने नहीं लड़ी लड़ाई वह लगा रहे हैं आरोप'

इंदौर। धारा 370 पर अब जमकर सियासत हो रही भले ही दोनों सदन में बिल पास कर जम्मू और  काश्मीर से धारा 370 हटाने का निर्णय लिया गया हो लेकिन अब बीजेपी और कांग्रेस की सियासी जंग बयानों के जरिये शुरू हो चुकी है। प्रदेश में जहां पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने धारा 370 का दोष नेहरू को दिया वही दूसरी ओर इंदौर में प्रदेश सरकार कम मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने एक विवादित बयान दे डाला। मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने आरोप लगाया कि जम्मू कश्मीर में भय और आतंक के साए में धारा 370 समाप्त की गई। इसमें संवैधानिक प्रक्रिया का पालन भी नहीं किया गया। मंत्री वर्मा ने कहा कि धारा 370 के मामले में नेहरू जी पर वे लोग आरोप लगा रहे हैं जिन्होंने न स्वयं और ना ही उनके बाप दादाओं ने आजादी की लड़ाई में भाग लिया। वहीं भाजपा द्वारा सिंधिया पर डोरे डालने के सवाल पर कहा कि सिंधिया जी कांग्रेस के मजबूत स्तंम्भ है उल्टा वे चार पांच भाजपा विधायकों को कांग्रेस में ला सकते हैं। इसके अलावा मंत्री वर्मा बे इंदौर के सीतलामाता बाजार पर अतिक्रमण कार्रवाई के संबंध में कहा वहां के व्यापारियों ने उनसे कोई संपर्क नही किया है। वही मंत्री वर्मा ने ये भी  कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया , मिलिंद देवड़ा, हुड्डा द्वारा धारा 370 के मामले में दिए गए बयान उनके व्यक्तिगत बयान थे।


"To get the latest news update download tha app"