आंतरिक रिपोर्ट में बीजेपी को 20 सीटों पर जीत की उम्मीद, कांग्रेस यहां कर रही जीत का दावा

भोपाल।  मध्य प्रदेश में तीसरे चरण का मतदान रविवार को संपन्न हो चुका है। प्रदेश की 29 में से 21 सीटों पर उम्मीदवारों का भविष्य ईवीएम में कैद हो चुका है। इस बार भी प्रमुख मुकाबला बीजेपी और कांग्रेस के बीच ही रहा। मीडिया रिपोर्ट में कहा जा रहा है कि तीसरे चरण के बाद बीजेपी 20 और कांग्रेस 16 सीटों पर जीत का दावा कर रही है। दोनों अपनी अपनी आंतरिक रिपोर्ट के आधार पर यह दावा कर रहे हैं। 

दरअसल, रविवार को प्रदेश की आठ सीटों पर वोट डाले गए। इन आठ सीटों से से कांग्रेस का सिर्फ गुना सीट पर कब्जा था। बाकी की सात सीटों पर बीजेपी को 2014 में जीत मिली थी।  अंतिम चरण में आठ लोकसभा क्षेत्रों देवास, उज्जैन, इंदौर, धार, मंदसौर, रतलाम, खरगोन और खंडवा में 19 मई को मतदान होगा। मतगणना 23 मई को होगी। उससे पहले ही दोनों दल जीत का दावा कर रहे हैं। जिन सीटों पर मतदान हो चुका है उन सीटों में से बीजेपी ने 20 सीटों पर जीत का दावा किया है। इनमें भोपाल, विदिशा, सागर, रीवा, शहडोल, मंडला, जबलपुर, खजुराहो, टीकमगढ़, दमोह, उज्जैन, मंदसौर, जबलपुर, बैतूल, होशंगाबाद, मुरैना, भिंड, खंडवा और खरगोन सीटें शामिल हैं| 

वहीं, रतलाम, धार, सीधी और बालाघाट में बीजेपी और कांग्रेस के बीच कांटे का मुकाबला है। कांग्रेस के छिंदवाड़ा, गुना, ग्वालियर, सतना में मज़बूत स्थिति में होने की बात कही जा रही है। कांग्रेस ने भोपाल, छिंदवाड़ा, गुना, ग्वालियर, मुरैना, मंडला, बालाघाट, सतना, सीधी, रतलाम, धार, देवास, खजुराहो, राजगढ़, खरगोन और इंदौर सीट पर जीत की उम्मीद है। वहीं, पार्टी को भिंड, विदिशा, रीवा, होशंगाबाद, शहडोल और टीकमगढ़ में हार का डर है। 

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि कांग्रेस प्रदेश में 22 सीटें जीत रही है। वहीं, पूर्व मुख्यमंत्री और भोपाल से प्रत्याशी दिग्विजय सिंह का दावा है कि उनकी पार्टी को प्रदेश में 14 से 16 सीट जी रही है। सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि कांग्रेस ने बीते दो दशक के बाद इस बार अच्छा प्रदर्शन किया है। जबकि, पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का दावा है कि उनकी पार्टी 2014 का प्रदर्शन इस बार भी दोहराएगी। केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने दावा किया है कि उनकी पार्टी प्रदेश में 25 सीटें जीत रही है। 

"To get the latest news update download the app"