बिजली कटौती को लेकर कमलनाथ सरकार सख्त, 3 अफसर सस्पेंड, अधीक्षण यंत्री को नोटिस

भोपाल।

मध्यप्रदेश में लगातार बिजली कटौती के मामले सामने आने के बाद अब कमलनाथ सरकार एक्शन में आ गई है। एक के बाद एक लापरवाह अधिकारियों-कर्मचारियों पर कार्रवाई की जा रही है। इसी क़ड़ी में बिजली सप्लाई में लापरवाही बरतने पर 3 अधिकारियों को निलंबित कर दिया है और इंदौर संभाग के अधीक्षण यंत्री के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई का नोटिस जारी किया है।बता दे हाल ही में ऊर्जा विभाग ने तीन बिजली इंजीनियरों को निलंबित किया था। सीएम के निर्देश के बाद यह दूसरी बड़ी कार्रवाई है।

दरअसल, सीएम कमलनाथ के निर्देश के बावजूद प्रदेश में अघोषित बिजली कटौती का दौर जारी है। शिकायतों का अंबार लगा हुआ है, जनता सड़क पर उतरकर प्रदर्शन कर रही है।  इसी कड़ी में सरकार द्वारा अघोषित बिजली कटौती को रोकने में लापरवाही बरतने के आरोप में मध्यप्रदेश पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी इंदौर के सनावद (शहर) वितरण केन्द्र के सहायक यंत्री महेंद्र कुमार नीम, सरदारपुर वितरण केंद्र के कनिष्ठ यंत्री सुनील मिश्रा और मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के सिरोंज (शहर) वितरण केन्द्र के सहायक प्रबंधक राजनारायण शर्मा को विद्युत प्रदाय विनियमन निलंबित कर दिया है। 

वही इंदौर (शहर) के अधीक्षण यंत्री अशोक शर्मा को इंदौर में विद्युत प्रवाह के अव्यवस्थित होने से परेशान उपभोक्ताओं के द्वारा संपर्क करने पर फोन रिसीव नहीं करने, उपभोक्ताओं की शिकायतों की सुनवाई और समय पर निराकरण नहीं करने पर एक वेतन वृद्धि रोकने की कार्रवाई का नोटिस जारी किया गया। 


"To get the latest news update download tha app"