विरोधी 'गुट' के दो दिग्गज नेताओं की नजदीकी की सियासत में चर्चा

भोपाल। मध्य प्रदेश कांग्रेस के नए अध्यक्ष की दौड़ में प्रबल दावेदार माने जा रहे पूर्व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ग्वालियर चम्बल के दौरे पर हैं| इस दौरान वे वरिष्ठ मंत्री डॉ. गोविंद सिंह के भिंड स्थित घर रात्रि भोजन करेंगे। चंबल में कांग्रेस के लगभग सभी बड़े नेेता उनके साथ होंगे। गोविंद सिंह को कांग्रेस में दिग्विजय सिंह का समर्थक माना जाता है। ग्वालियर चंबल की राजनीति में सिंधिया और सिंह दो अलग-अलग ध्रुव रहे हैं। ग्वालियर-चंबल की राजनीति में एक दूसरे के कट्टर प्रतिद्वंदी माने जाने वाले कांग्रेस के दो दिग्गज नेताओं की मुलाकात चर्चा का विषय बनी हुई है| इससे पहले सिंधिया ने इंदौर में दिग्विजय समर्थक नेताओं से मुलाकात की थी और साथ में लंच भी किया था| 

पिछले दिनों डॉ. गोविंद सिंह ने दिल्ली में सिंधिया के घर पहुंचकर उनसे सौजन्य मुलाकात की थी। इस मुलाकात के बाद ही इन दोनों नेताओं के संबंधों पर जमी बर्फ पिघलने लगी थी। प्रदेश में कमलनाथ सरकार बनने के बाद सबसे पहले ज्योतिरादित्य सिंधिया ने डॉ. गोविंद सिंह को फोन कर न केवल बधाई दी थी, बल्कि यह भी कहा था कि वे चाहते हैं कि पार्टी के सबसे वरिष्ठ विधायक होने के नाते उन्हें मंत्रि मंडल में सम्मानजनक पद मिले।  गोविंद सिंह भिण्ड की लहार विधानसभा से लगातार सात चुनाव जीत चुके हैं। कमलनाथ सरकार में मंत्री बनने के बाद पार्टी में उनका कद और बढ़ा है, वहीं ग्वालियर चम्बल में भी उनका प्रभाव है| दोनों गुट के नेताओं के बीच आपसी खींचतान आय दिन सुर्खियां बनती है, ऐसे में सिंधिया से उनकी मुलाकात को खासा अहम माना जा रहा है, इसे प्रदेश में कांग्रेस की राजनीति के लिए शुभ लक्षण भी माना जा रहा है। 

दशहर के दो दिन सिंधिया भिंड के दौरे पर रहेंगे| इस दौरान वे कांग्रेस के जिला कार्यालय में पार्टी पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं से मुलाकात करेंगे। इसके बाद सिंधिया जिलाध्यक्ष रमेश दुबे और पूर्व मंत्री चौधरी राकेश सिंह के घर चाय पीने जाएंगे। पास के एक गांव में भी सिंधिया के जाने का कार्यक्रम है। शाम 6.30 बजे सिंधिया वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं के साथ डॉ. गोविंद सिंह के भिंड जिला मुख्यालय स्थित निवास पर पहुंचकर उनके साथ भोजन करेंगे।  इस मुलाकात को सिंधिया की प्रदेश अध्यक्ष बनने की राह आसान करने से भी जोड़कर देखा जा रहा है| सूत्रों के मुताबिक सिंधिया को उनके सलाहकारों ने सलाह दी है कि वे पार्टी में मतभेदों को दूर करने का प्रयास करें। इसी के चलते सिंधिया मेल मिलाप में जुटे हुए हैं| 

"To get the latest news update download tha app"