MP: प्रियंका गांधी के दौरे के क्या मायने, BJP के गढ़ में सेंध लगा पायेगी कांग्रेस

भोपाल| मालवा निमाड़ में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी का दौरा कई मायनों में महत्वपूर्ण है| प्रदेश में तीन चरणों के चुनाव हो चुके हैं और अब अंतिम चरण में मालवा-निमाड़ की 8 सीटों पर बीजेपी और कांग्रेस का फोकस है| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार दो दिन खंडवा, इंदौर और रतलाम में सभा कर चुके हैं| इसके बाद अब प्रियंका गाँधी यहां रोडशो और सभा करेंगी| मध्य प्रदेश में भी प्रियंका का टैम्पल रन जारी रहा और उन्होंने सॉफ्ट हिंदुत्व का सन्देश देने के लिए महाकाल के दर्शन कर चुनावी दौरे की शुरुआत की| 

उत्तरप्रदेश में जिम्मेदारी मिलने के बाद सक्रिय राजनीति में आई प्रियंका गाँधी के दौरे में मांग ज्यादा है| उनके दौरे की मांग विधानसभा चुनाव में भी हुई थी लेकिन तब प्रियंका सक्रिय राजनीति में नहीं आयीं थीं. हालांकि अब वो चुनाव के आख़िरी दौर में मध्य प्रदेश आई हैं| कांग्रेस का फोकस मालवा-निमाड़ की 8 सीटों पर है, जो पिछले लोकसभा चुनाव में बीजेपी के खाते में चली गयी थीं| बाद में उपचुनाव में एक सीट वो जीत पायी. इस बार विधान सभा चुनाव के नतीजे कांग्रेस को उम्मीद जता रहे हैं. उनके दौरे को लेकर कांग्रेसी बेहद उत्साहित हैं| 

साल 2014 के चुनाव में भाजपा ने आठ सीटों में से सात पर जीत दर्ज की थी| इस बार कांग्रेस ने बीजेपी के गढ़ में सेंध लगाने का प्लान बनाया है| जिसके लिए प्रियंका को मैदान में लाया गया है| हालांकि बीजेपी का गढ़ माने जाने वाले मालवा निमाड़ को विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने ध्वस्त कर दिया था|  इससे बीजेपी परेशान है. यही कारण है कि इस लोकसभा चुनाव में दोनों ही पार्टियां पूरा जोर लगा रही हैं|

"To get the latest news update download the app"