पूर्व केंद्रीय मंत्री ने ठोकी कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए दावेदारी, राहुल को लिखा पत्र

भोपाल। लोकसभा चुनाव में करारी हार मिलने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने पद से इस्तीफा देने की पेशकश की थी। लेकिन पार्टी के वरिष्ठ नेता और कांग्रेस कार्य समिति के सदस्यों ने पेशकश नहीं मानी। हालांकि, पूर्व केंद्रीय मंत्री ने एक चिठ्ठी लिख कर राहुल गांधी से अध्यक्ष पद दिए जाने की पेशकश की है। यहां हैं पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता असलम शेर खान। विवादों से घिरे रहने वाले असलम शेर खान एक बार फिर सुर्खियों में हैं। उन्होंने कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष पद की दावेदीर ठोकी है। 

दरअसल, असल शेर खान मध्य प्रदेश के खांटी कांग्रेस नेताओं में शुमार हैं। उन्होंने अब कार्यकारी  अध्यक्ष के लिए दावा किया पेश किया है। इसके लिए उन्होंने सीधे तौर पर राहुल गांधी को पत्र लिखा है। इसमें उन्होंने लिखा है कि दो साल के लिए मुझे पार्टी का राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष बना दिया जाए। उन्होंने पार्टी नेताओं पर तंज भी कसा।असलम शेर खान ने लिखा कि सिर्फ कमरों में बैठकर और राहुल गांधी की बुराई से कुछ नहीं होगा. पार्टी को मज़बूत बनाने के लिए सभी नेता और कार्यकर्ताओं को आगे आना होगा।

राहुल गांधी को ये चिट्ठी 27 मई को लिखी गई थी. इस चिट्ठी में असमल ने लिखा, 'मैं पार्टी को अपनी सेवाएं देना चाहता हूं औ दो साल के लिए कांग्रेस अध्यक्ष पद संभालना चाहता हू'. वहीं अब इस चिट्ठी पर असमल शेर खान का बयान भी सामने आया है. उन्होंने कहा है, 'जब राहुल गांधी ने अपने पद से इस्तीफा देने की पेशकश की थी और कहा था कि वो चाहते हैं कि गांधी परिवार से बाहर का कोई सदस्य कांग्रेस अध्यक्ष बने तब मुझे लगा यहां मौका मिल सकता है'. उन्होंने कहा, 'मैनें पत्र में कहा था कि अगर राहुल गांधी अध्यक्ष पद पर बने रहना चाहते हैं तो रह सकते हैं लेकिन अगर वो इस्तीफा देना चाहते हैं तो उसका भी सम्मान करना चाहिए'.

असमल शेर खान ने कहा, 'अगर आप (कांग्रेस) चाहते हैं कि नेहरू-गांधी परिवार से बाहर कोई अध्यक्ष पद की कमान संभाले तो मुझे मौका दीजिए क्योंकि और कोई आगे नहीं आ रहा.' खान ने कहा, 'मैंने पत्र में लिखा है कि 2 साल के लिए कांग्रेस अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी दी जाए. कांग्रेस को एक बार फिर राष्ट्रवाद से जुड़ना होगा.'

देशभर से कांग्रेस नेताओं और सहयोगी दलों के अध्यक्षों ने राहुल गांधी से अपील करते हुए कहा कि वह अपने फैसले पर पुनर्विचार करें। 27 मई को लिखे पत्र में असलम खान ने लिखा है- “मैं समयबद्ध दो साल के लिए अस्थायी कांग्रेस अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी संभालने और अपनी सेवाएं देने को तैयार हूं।” 1975 में मलेशिया के कुआलालम्पुर में जीती इंडियन हॉकी टीम का सदस्य रह चुके असलम खान ने कहा कि उन्होंने यह प्रस्ताव उनके एक अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी और राजनेता दोनों के तौर पर अनुभव के आधार पर किया है।


"To get the latest news update download tha app"