कमलनाथ के मंत्री ने आईपीएस की जमकर ली क्लास

भोपाल/राजगढ़।  लोकसभा चुनाव की सरगर्मियों के बीच सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो में कमलनाथ सरकार में ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह राजगढ़ पुलिस अधीक्षक की क्लास लेते हुए नजर आ रहे है। वीडियो में मंत्री जी कोई दूसरे थाने के इंस्पेक्टर के यहां थाने में आने और आरोपी को छुड़ाने को लेकर पुलिसकर्मियों पर बरसते हुए नजर आ रहे है। खास बात तो ये है कि जब मंत्री जी पुलिस वालों से सवाल पर सवाल कर रहे थे, तब पुलिसकर्मी पूरे समय हाथ बांधे खड़े रहे और जी सर जी सर करते रहे।सोशल मीडिया पर यह वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। 

वायरल वीडियो में मंत्री जी ने पुलिसकर्मियों से सवाल करते हुए कहा कि केएल दांगी यहां क्या करने आया था, क्या वो इस थाने में पदस्थ है। उसके कहने पर क्यों छोड़ दिया। केएल दांगी के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। उनके पूरे स्टॉफ के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए, कौन सी दुकान चला के बैठों हो यहां। केएल दांगी इंस्पेक्टर आएगा और उन्हें छुडा के ले जाएगा। ग्रामीणों की शिकायत पर उनके ही सामने मंत्रीजी ने एसपी और अन्य पुलिस अधिकारी की जमकर क्लास ली| जिसका वीडियो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है| 

यह है मामला 

राजगढ़ जिले के छापीहेड़ा थाने के सेंदरा गांव में विधानसभा चुनाव में भाजपा टिकट के दावेदार रहे बालचन्द दांगी के यहां विवाह समारोह में आए रिश्तेदार आपसी विवाद के चलते आपस में भिड़ गए और जिसमें से एक पक्ष के शख्स गम्भीर रूप से घायल हुआ। इसी दौरान घटना स्थल पर पहुंची पुलिस ने आरोपियों को पकड़ कर रात भर थाने में रखा और छोड़ दिया। इस मामले में हत्या का प्रयास करने वाला आरोपी ही थाने में पीड़ित के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज करवा गए। विवाद पति-पत्नी का लंबे समय से चल रहा है। दोनों ही पुलिस विभाग में ऊंचे पद पर पदस्थ हैं। पति-पत्नी के विवाद के चलते पहले भी शाजापुर में पदस्थ एक एसपी आरोपों के घेरे में आए थे और पूरे प्रदेश में ये एसपी लिफाफे वाले के नाम से चर्चित हुए थे। एक बार फिर पुलिसिया पति-पत्नी के विवाद में राजगढ़ पुलिस और प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह खींची चर्चा में आ गए। दोनों के विवाद में पुलिस ने पीड़ित को आरोपी और आरोपियों को फरियादी बना दिया। इसकी जानकारी लगते ही  छापीहेड़ा पहुंचे ऊर्जा मंत्री प्रियवृतसिंह खींची को पुलिस से सही जवाब नहीं मिलने पर वे धरने पर बैठ गए। जानकारी लगते ही  एसपी प्रदीप शर्मा छापीहेड़ा पहुंचे । धरने पर बैठे नाराज ऊर्जा मंत्री ने एसपी को फटकार लगाई। एसपी भी चुपचाप खड़े सुनते रहे। छापीहेड़ा टी आई ने पीड़ित पर ही मामला दर्ज कर दिया। छापीहेड़ा टीआई ने यह मामला पुलिस विभाग में ही अन्य जिले में पदस्थ टी आई के एल दांगी के कहने पर कर दिया । सोशल मीडिया पर जो ऊर्जा मंत्री का वीडियो वायरल हुआ है,,उसमें वे के एल दांगी का नाम भी ले रहे हैं। ये वीडियो कुछ दिन पहले का है जो अब सोशल मीडिया पर वायरल हुआ। इस पूरे मामले में लापरवाही बरतने वाले दो पुलिस कर्मियों को निलंबित भी कर दिया, साथ ही एसपी शर्मा ने आरोपी पकड़ने वाले को दस हजार इनाम देने की घोषणा की है।



"To get the latest news update download tha app"