झाबुआ उपचुनाव: भाजपा ने शुरू की किलाबंदी, सांसद-विधायक को किया तैनात


भोपाल। मध्य प्रदेश के झाबुआ में होने वाले उप चुनाव को लेकर भाजपा ने कमर कसली है। विधनसभा चुनाव में मिली जीत को बरकरार रखने के लिए पार्टी की ओर से कांग्रेस की किलाबंदी करने के लिए सांसद और विधायक को तैनात कियागया है। यही नहीं झाबुआ विधानसभा सीट को सेक्टर में बांटा गया है। ताकि हर शख्स अपनी जिम्मेदारी सही से निभा सके। पार्टी की योजना के मुताबिक हर सेक्टर में चार स्तरीय व्यवस्था होगी।  एक व्यवस्था प्रदेश स्तरीय, दूसरी संभाग स्तरीय, तीसरी सांसद और चौथी विधायक के स्तर पर नेताओं द्वारा मोर्चा संभाला जाएगा। 10 अक्टूबर के बाद से यहां प्रचार में तेजी आएगी।

भाजपा नेताओं ने डाला डेरा

झाबुआ विधानसभा सीट कांग्रेस और बीजेपी के लिए प्रतिष्ठा का मुद्दा बन गई है। यही कारण है कि दोनो पार्टियों की ओर से बड़े नेताओं ने डेरा जमाना शुरू कर दिया है। भाजपा की ओर से प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत के साथ इंदौर के संगठन मंत्री जयपाल चावड़ा सहित कई अन्य संगठन मंत्रियों के हाथों में चुनाव प्रबंधन की कमान सौंपी गई है। यही नहीं मालवांचल के नेताओं को भी जीत के लिए जिम्मेदारी सौंपी गई है। 

पार्टी सूत्रों ने बताया कि पूरे विधानसभा क्षेत्र को भाजपा ने सेक्टरों में बांट लिया है। जिसमें चार स्तर पर पार्टी पदाधिकारी और अन्य जनप्रतिनिधि तैनात किए गए हैं। हर सेक्टर की कमान प्रदेश स्तर के पदाधिकारी के पास होगी। उससे नीचे संभागीय संगठन मंत्री की टीम बनाई गई है। तीसरे चरण में सांसद और चौथे स्तर पर विधायक को जिम्मेदारी सौंपी गई है। ये लोग अब निरंतर अपने सेक्टर में ही बने रहेंगे।

"To get the latest news update download tha app"