VIDEO: मंत्री के 'यूटर्न' पर बिफरे पटवारी, फिर गए हड़ताल पर

भोपाल

मध्य प्रदेश में पटवारियों को लेकर एक बार फिर नया ट्विस्ट आ गया है| शनिवार रात तक हड़ताल जारी रखने के ऐलान के बाद रविवार सुबह हड़ताल समाप्त करने के फैसले के बाद एक बार फिर पटवारी संघ हड़ताल पर चला गया है|  राजस्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत से बातचीत के बाद पटवारियों ने हड़ताल खत्म दी थी, लेकिन इंदौर में हड़ताल के बाद कैबिनेट मंत्री जीतू पटवारी के बयान से आहत होकर प्रदेश के पटवारी फिर से हड़ताल पर चले गए है। पटवारी संघ प्रदेशाध्यक्ष उपेन्द्र बघेल का कहना है कि जीतू पटवारी ने अब भी माफी नही मांगी है, उनका साफ कहना है कि वे अपने पुराने स्टैंड पर कायम है, ये सरासर पटवारियों का अपमान है। बघेल ने कहा कि जीतू पटवारी बिलकुल नही चाहते किसान की फसल का सर्वे हो , वे किसान हितैषी नही, जब तक जीतू माफी नही कोई पटवारी अपने बस्ते नही उठाएगा। इस पूरे घटनाक्रम के बाद सरकार में हड़कंप मच गया है। वहीं विपक्षी नेता पटवारियों की हड़ताल को पर साजिश की आशंका जाता रहे हैं| 

दरअसल, पटवारी संघ ने आज रविवार सुबह मंत्री गोविंद सिंह से मुलाकात कर हड़ताल खत्म कर दी थी। राजस्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने अपने बयान में कहा था कि किसानों के साथ पटवारी भी पूरी तरह खड़े हैं। मंत्री जीतू पटवारी ने ट्वीट कर माफी मांग ली है।  इसके बाद मंत्री और पटवारी संघ के पदाधिकारियों ने मीडिया के सामने आकर ऐलान किया कि हड़ताल आज से खत्म हो गई है। लेकिन हड़ताल खत्म होने के बाद इंदौर में जीतू पटवारी ने फिर एक बयान दिया जिससे पटवारी फिर नाराज हो गए है और उन्होंने हड़ताल जारी रखने का फैसला किया है।

 जीतू पटवारी ने बयान में कहा कि मैने किसी से माफी नही मांगी और ना भविष्य में मांगूंगा। मैं अपने स्टैंड पर कायम हूं। उनका कहना है कि उनका मकसद किसी की भावना को ठेस पहुंचाना नहीं था। एक इलाके से मिली शिकायतों के आधार पर बयान दिया था, उन्होंने साफतौर पर कहा कि अच्छे और बुरे लोग हर जगह होते हैं। हालांकि जीतू ने कहा है कि सभी पटवारी मेरे परिवार की तरह है। पटवारी ने कहा कि मैंने खेद व्यक्त किया था और उसी ट्वीट का आज फिर री-ट्वीट किया है। उन्होंने कहा कि उनके खुद के सरनेम में पटवारी है। हर महकमे में थोड़ी गलती तो होती है। यदि मैं भी कोई गलत काम करता हूं तो मुझे बताएं।



"To get the latest news update download tha app"