नया विमान खरीदने जा रही सरकार, इतने करोड़ होंगे खर्च

भोपाल।

प्रदेश का खजाना खाली है, सरकार की वित्तिय हालत ठीक नही है, छह महिने में चार से पांच बार कर्ज लिया जा चुका है, जनता से किए गए वादों का अंबार लगा हुआ है। बावजूद इसके सरकार फिजूलखर्ची पर रोक लगाने के नए नए खर्चे किए जा रही है। खबर है कि सीएम हाउस रिनोवेशन के बाद अब कमलनाथ सरकार एक नया विमान खरीदने पर विचार कर रही है।

दरअसल, बीते साल शिवराज सरकार ने जेट एयरक्राफ्ट खरीदने की तैयारी की थी, लेकिन विधानसभा चुनाव के चलते इस प्रस्ताव को टालते हुए एक साल के लिए जेट विमान किराए पर लिया गया था।जिसको लेकर विपक्ष में रही कांग्रेस ने जमकर हंगामा मचाया था और कांग्रेस का आरोप था कि खजाना खाली है और सरकार महंगे दामों वाले एयरक्राफ्ट खरीदने की तैयारी कर रही है। अब चुंकी प्रदेश में कांग्रेस की सरकार है, लेकिन स्थिति वही की वही है। अब सत्तापक्ष में आने के बाद कमलनाथ खुद एक नया विमान खरीदने की तैयारी कर रही है।बकायदा नए विमान की खरीदी के लिए एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट (ईओआई) बुलाए गए है। ईओआई में जो शर्तें तय की हैं, उनके मुताबिक नया विमान 25 करोड़ रु. से ज्यादा कीमत का होगा। 

हालांकि नया विमान के लिए शर्ते और नियम तय किए गए है, जिसके अनुसार,नया विमान छिंदवाड़ा, बिरवा, दतिया, गुना, खरगोन, मंदसौर, नीमच, रतलाम, रीवा, सागर, सीधी, सिवनी, शिवपुरी, उमरिया, झाबुआ और उज्जैन हवाई क्षेत्र से उड़ान भरने में सक्षम होना चाहिए। इतना ही नही सरकार ने दो विमानो को बेचने का भी फैसला किया है। सरकार मौजूदा 17 साल पुराना विमान और दो हेलिकॉप्टर भी बेचने जा रही है। यह विमान 17 साल, जबकि दोनों हेलिकॉप्टर 21 व 18 साल पुराने हैं। ये अमेरिका से खरीदे गए थे, लेकिन तीनों ही तकनीकी दिक्कतों के कारण ज्यादातर समय ग्राउंड रहते हैं।बता दे कि फिलहाल मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री के विमान बेड़े में अभी तीन हैलीकॉप्टर और एक हवाई जहाज शामिल है। जरूरत पडऩे पर किराए के जेट प्लेन का इस्तेमाल भी किया जाता रहा है। 

वर्तमान में ये विमान है राज्य सरकार के पास

- सुपर किंग बी-200 विमान एक - वर्ष 2002 में खरीदा गया था। इसकी बैठक क्षमता 7 यात्री तथा 2 पायलट है ।

- बैल-407 हेलीकॉप्टर (एक इंजिन वाला) - वर्ष 2003 में खरीदा गया था। इसकी बैठक क्षमता 4 यात्राी तथा 2 पायलट है ।

- इसी 155 बी1 हेलीकॉप्टर (दो इंजिन वाला) - वर्ष 2011 में खरीदा गया था। इसकी बैठक क्षमता 6 यात्राी तथा 2 पायलट है । फ्रांस की यूरोकॉप्टर कंपनी से इसे 10.5 मिलियन यूरो में खरीदा गया था। 

- बैल-430 हेलीकॉप्टर (दो इंजिन वाला) - वर्ष 1998 में खरीदा गया था। इसकी बैठक क्षमता 6 यात्री तथा 2 पायलट है ।

"To get the latest news update download tha app"