वोटिंग से एक दिन पहले मंत्री-विधायक और कांग्रेस प्रत्याशी पर FIR, यह है मामला

भोपाल/अलीराजपुर। लोकसभा चुनाव के लिए अंतिम चरण में रविवार को वोट डाले जाने है|  वोटिंग से एक दिन पहले कांग्रेस नेताओं पर आचार संहिता उल्लंघन का आरोप लगा है| मंत्री, विधायक, कांग्रेस प्रत्याशी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है| रतलाम झाबुआ लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी कांतिलाल भूरिया, कैबिनेट मंत्री सुरेंद्र हनी बघेल, कांग्रेस विधायक मुकेश पटेल, समेत अन्य कांग्रेस नेताओं के खिलाफ पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है। 

दरअसल, 17 मई शाम पांच बजे चुनाव अंतिम चरण के लिए चुनाव थम चुका है। चुनाव प्रचार थमने के बाद भी शनिवार सुबह कांग्रेस नेताओं द्वारा अलीराजपुर में चुनाव प्रचार करने का आरोप लगा है| इसके चलते प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई की है। आचार संहिता उल्लंघन के मामले में प्रभारी मंत्री हनी बघेल, कांग्रेस प्रत्याशी कांतिलाल भूरिया, अलीराजपुर कांग्रेस विधायक मुकेश पटेल सहित करीब 8 लोगों के खिलाफ नामजद एफआईआर कोतवाली थाने में दर्ज कराई गई है। कोतवाली थाने में दर्ज एफआईआर के तहत कांग्रेस जिला अध्यक्ष सहित नपाध्यक्ष के भी नाम में शामिल हैं।

गौरतलब है कि कांग्रेस प्रत्याशी द्वारा बिना अनुमति किए गए प्रचार की शिकायत बीजेपी ने की थी। जिसके बाद मौके पर पहुंचकर तहसीलदार संतुष्टि पाल ने वीडियो फुटेज और अन्य साक्ष्य के आधार पर उन्होंने अपना प्रतिवेदन जिला निर्वाचन अधिकारी को सौंपा था। जिसके बाद कलेक्टर ने सबूतों के आधार पर आचार संहिता के उल्लंघन के आरोप में कैबिनेट मंत्री सुरेंद्र हनी बघेल, कांतिलाल भूरिया, विधायक मुकेश पटेल व कांग्रेस जिलाध्यक्ष महेश पटेल के खिलाफ अलीराजपुर कोतवाली में एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए। 


इन धाराओं में मामला दर्ज 

निर्वाचन अधिकारी एवं कलेक्टर ने हनी बघेल के अलीराजपुर में प्रवेश समेत प्रमुख कांग्रेसियों पर धारा 144 एवं आचार संहिता के उल्लंघन के आरोप में धारा 188 एवं लोक प्रतिनिधित्व की धारा 151 की 121 की (ग) के तहत एफआईआर दर्ज की है| बीजेपी के जिला अध्यक्ष ने इसे सत्ता का दुरूपयोग बताया है | 

 

"To get the latest news update download tha app"