कमलनाथ सरकार के 'संकटमोचक' की भूमिका में रहेंगे दिग्विजय

भोपाल। प्रदेश में राजनीतिक खीचंतान और विपक्ष की रणनीति के बीच कांग्रेस भी सक्रिय भूमिका में आ गई है। विपक्ष द्वारा सत्ता पक्ष के विधायकों के संपर्क मेंं होने के दावे के बीच कांग्रेस ने भी सभी विधायकों से सीधा संपर्क शुरू कर दिया है। यह काम पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को सौंपा गया है। जो मंत्री एवं विधायक सरकार में काम नहीं होने या अन्य किसी वजह से नाराज हैं, उनसे दिग्विजय खुद मुलाकात करेंगे। पिछले दिनों दिग्विजय सिंह सार्वजनिक तौर पर यह ऐलान भी कर चुके हैं। सरकार पर कोई संकट आया तो संकटमोचक की भूमिका दिग्विजय निभाएंगे|  

तय किया है कि विधानसभा सत्र तक दिग्विजय सिंह भोपाल में ही रहेंगे और विधायकों से लगातार संपर्क करेंगे। उन्होंने प्रदेश के बाहर जाने के लगभग सभी कार्यक्रम निरस्त कर दिए हैं। जरूरी होने पर ही वे बाहर जाएंगे। सूत्रों ने बताया कि अगले कुछ दिनों में दिग्विजय सिंह कुछ विधायकों से मुलाकात भी करने वाले हैं। साथ ही निर्दलीय एवं समर्थन देने वाले दलों के विधायकों से भी वे चर्चा करेंगे। सरकार को  खुफिया रिपोर्ट मिली है कि पिछले दिनों में भाजपा ने कुछ कांग्रेस एवं निर्दलीय विधायकों से संपर्क भी साधा है। ऐसे विधायकों से अब कांगे्रस नेता संपर्क करेंगे। सत्र के दौरान उनके साथ रहेंगे। 

"To get the latest news update download tha app"