कटौती को लेकर सड़कों पर उतरे पूर्व मंत्री, कार्यकर्ताओं ने हाइवे पर लगाया जाम, भारी पुलिस बल तैनात

दमोह।

मध्यप्रदेश में अघोषित बिजली कटौती को लेकर जमकर घमासान मचा हुआ है। विपक्ष द्वारा इसे मुद्दा बनाकर प्रदेश सरकार का जमकर घेराव किया जा रहा है। एक तरफ जहां बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय किसानों के साथ मिलकर इंदौर में किसान आक्रोश रैली निकाल रहे है, वही दमोह में पूर्व मंत्री जयंत मलैया सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ सड़कों पर उतककर प्रदर्शन कर रहे है।बीजेपी कार्यकर्ताओं ने सागर-जबलपुर हाईवे पर जाम भी लगा दिया, जिसके चलते यातायात प्रभावित हो रहा है, गाड़ियों की लंबी लंबी लाइन लग गई है।मौके पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है।

दरअसल, शहर में अघोषित बिजली कटौती को लेकर भाजपा नेताओं ने मंगलवार को बिजली दफ्तर के बाहर जमकर प्रदर्शन किया। बीजेपी कार्यकर्ताओं ने बिजली कटौती को लेकर सागर-जबलपुर हाईवे मार्ग पर जाम लगा दिया है। बीजेपी कार्यकर्ता दमोह विद्युत मंडल के सामने सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व मध्यप्रदेश के पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया कर रहे थे। इस दौरान उनके साथ स्थानीय लोग भी प्रदर्शन में शामिल हो गए।  सभी बिजली कटौती को लेकर कमलनाथ सरकार के खिलाफ जमकर नारे लगा रहे है। 

मौके पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। प्रदर्शन में भारी तादाद में महिलाएं भी शामिल है जो सरकार के खिलाफ मोर्चा खोले हुए है। लोग बिजली विभाग के खिलाफ सड़कों पर उतर आए हैं। बीजेपी कार्यकर्ता आम लोगों के साथ दमोह विद्युत मंडल के सामने सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं।

बता दे कि प्रदेश में बिजली को लेकर जमकर सियासत गर्माई हुई है। जहां सरकार का कहना है कि बारिश के पूर्व बिजली विभाग मेंटेनेंस कर रहा है। कई सारी जगहों पर पूर्व सरकार में खरीदे गए घटिया उपकरणों की वजह से बार- बार लाइन में फॉल्ट हो रहा है।लापरवाह अधिकारियों पर कार्रवाई की जा रही है, वही बीजेपी इसे मुद्दा बनाकर लोगों के बीच भुनाने में लगी हुई है और सड़कों पर उतरकर सरकार का घेराव कर रही है।


"To get the latest news update download tha app"