गोडसे विवाद पर पचौरी ने बीजेपी पर साधा निशाना, दोहरे चरित्र पर उठाए सवाल

भोपाल। गोडसे को देश भक्त बताने वाले बयान को लेकर बीजेपी पर चौतरफा हमला हो रहा है। पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश पचौरी ने भाजपा की कथनी और करनी पर सवाल उठाए हैं। पचौरी ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि मोदी कहते हैं कि वह प्रज्ञा को मन से माफ नहीं कर पाएंगे, लेकिव सवाल उठता है कि साध्वी को टिकट दिया किसने था। गोडसे के बयान पर बीजेपी का दौहरा रवैया है। साध्वी को सिर्फ नोटिस और प्रदेश प्रवक्ता अनिल सौमित्र को निष्कासित किया गया। 

उन्होंने पार्टी अध्यक्ष अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि साध्वी को भोपाल की फिज़ा बिगाड़ने के लिए टिकट दिया गया था। राष्ट्रीय मुद्दों के अलावा उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को भी आड़े हाथ लिया। उन्होंने कहा कि 15 साल बाद शिवराज को जनता ने सन्यास दिला दिया। उन्होंने कहा कि मोदी अपने किए गये वादों को पूरा नहीं कर पाए इसलिए जनता ने पहले प्रदेश से शिवराज को अब केंद्र से मोदी को बाहर करने का मन बना लिया है। 

सस्ती बिजली देने का किया था वादा

उन्होंने शिवराज पर गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि किसानों से शिवराज ने वादा किया था कि जितनी बिजली उतना पैसा, लेकिन ऐसा हुआ नहीं। शिवराज के समय किसानों ने ज्यादा आत्महत्या की, प्रदेश में बेरोजगारी बढ़ी। भ्रष्टाचार भी जमकर बढ़ा है। उन्होंने दावा किया कि सत्ता में आने के बाद कांग्रेस ने किसानोंं का कर्ज और बिल हाफ और माफ किया है। उन्होंने सवाल उठाया है कि शिवराज प्रज्ञा के बयान पर सवाई दें। एक को निष्काषित कर रहे हैं दूसरे को नोटिस।

"To get the latest news update download tha app"