MP में जारी रहेगा मूसलाधार बारिश का दौर, इन जिलों में भारी बारिश का ALERT

भोपाल। मध्य प्रदेश में एक बार फिर मानसूम सक्रिय होने से भारी बारिश का दौर जारी है। राजधानी भोपाल में लगातार भीषण बारिश होने से जन जीवन प्रभावित हुआ है। पिछले 24 घंटों में लगभग 14.23 मिलीमीटर वर्षा हो चुकी है। ऐसे में अब तक कुल 779.97 मिलीमीटर से अधिक बारिश दर्ज की गई है।इस बीच मौसम विभाग ने अगले चौबीस घंटों में कहीं कहीं फिर भारी बर्षा होने की चेतावनी जारी कर दी है।

मौसम विभाग के मुताबिक बंगाल की खाड़ी और ओडिशा पर दो दिन पूर्व बने कम दबाव के क्षेत्र के साथ विदर्भ में बने इसी प्रकार के एक सिस्टम के विलय हो जाने से मध्यप्रदेश में मानसून अतिसक्रिय हो गया है। प्रदेश के 52 जिलों में से 25 जिलों में सामान्य से अधिक वर्षा हुई है। सबसे ज्यादा मंदसौर में 1263 मिमी वर्षा हुई जो सामान्य से 116 प्रतिशत ज्यादा है और सबसे कम 472 मिमी सीधी जिले में हुई जो सामान्य से 33 प्रतिशत कम है।

यहां आरेंज अलर्ट जारी

दूसरी ओर मौसम विभाग ने 24 घंटों के दौरान भोपाल, रायसेन, राजगढ़, सीहोर, विदिशा, उज्जैन, रतलाम, मंदसौर, शाजापुर, देवास, आगर, धार, इंदौर, झाबुआ, खंडवा, खरगोन, बुरहानपुर, हरदा, सागर, गुना आदि जिलों में कहीं कहीं भारी बारिश होने की चेतावनी दी है। मानसून ट्रफ मध्यप्रदेश के रीवा से होकर गुजर रही है तथा उत्तरपूर्वी मध्यप्रदेश पर चक्रवाती घेराव ( साइक्लोनिक सर्कुलेशन) भी ऊपरी वायुमंडल में 1़5 किमी ऊपर विद्यामान है। 26 अगस्त को वर्षा की गतिविधियां कुछ कम हो सकती है लेकिन इसके दूसरे ही दिन से फिर वर्षा की झमाझम के आसार हैं क्योकि बंगाल की खाड़ी और उत्तरी ओडिशा पर कम दबाव का एक और सिस्टम बन गया है जो 27 अगसत से बरसना शुरू कर सकता है और इस माह क अंत तक मध्यप्रदेश बारिश से तरबतर रह सकता है।


"To get the latest news update download tha app"