प्रदेश के डॉक्टरों पर मेहरबान सरकार, दोगुना वेतन देने का किया ऐलान

भोपाल। मध्य प्रदेश में डॉक्टरों के लिए खुश खबरी है। सरकार ऐसे डॉक्टरोंं को दोगुना वेतन देगी जिनकी पोस्टिंग प्रदेश 89 आदिवासी ब्लॉक में ड्यूटी करेंगे। यह जानकारी स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट ने दी। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा संचालित अस्पतालों और स्वास्थ्य केंद्रों में डॉक्टरों के सत्तर प्रतिशत पद खाली हैं। 1,065 पद तुरंत भरे जाएंगे, जबकि अन्य 500 डॉक्टरों को या तो अनुबंध पर रखा जाएगा या बांड भरकर दिया जाएगा। सरकार ने आदिवासी ब्लॉक और ग्रामीण क्षेत्रों में सेवारत डॉक्टरों को परिवहन के लिए वाहन सहित सर्वोत्तम सुविधाएं प्रदान करेगी। अब, आदिवासी ब्लॉक में सेवा देने वाले डॉक्टरों का वेतन रु 1.50 लाख प्रति माह पार करने की उम्मीद है। 

सिलावट ने यह भी घोषणा की कि आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं और सामुदायिक स्वास्थ्य अधिकारियों के 2,000 रिक्त पद भरे जाएंगे। आंगनवाड़ी कार्यकर्ता स्वास्थ्य संकेतक को बनाए रखने के लिए महत्वपूर्ण हैं। मंगलवार को जारी एमपी आर्थिक सर्वेक्षण ने संकेत दिया कि राज्य में 52% महिलाएं एनीमिक हैं और बेहतर स्वास्थ्य सेवा की जरूरत है। बजट में एक अन्य महत्वपूर्ण घोषणा 'स्वास्थ्य का अधिकार' थी। सिलावट ने कहा कि योजना पर काम किया जा रहा है और जल्द ही इसे सार्वजनिक कर दिया जाएगा। बजट से पहले, सिलावट ने दावा किया था कि राइट टू हेल्थ योजना से लगभग 1.8 करोड़ लोग लाभान्वित होंगे। हालांकि, जब विवरण मांगा गया, तो स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने कोई जवाब नहीं दिया। बजट में स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग की योजनाओं के लिए 7,547 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।

"To get the latest news update download tha app"