हाईप्रोफाइल हनीट्रैप मामले को लेकर ये क्या बोल गई कमलनाथ की मंत्री

इंदौर।

अपने बयानों से हमेशा सुर्खियों में रहने वाली कमलनाथ सरकार में  महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी फिर चर्चाओं में है।इमरती देवी ने अब हाईप्रोफाइल हनीट्रैप मामले को लेकर बड़ा बयान दिया है। जब तक महिला की गलती नहीं होती, तब तक पुरुष कोई गलती नहीं कर सकता। चाहे वह कोई गुंडा या मवाली हो।लही हनी ट्रैप मामले में नामों के खुलासे पर उन्‍होंने कहा कि आपको दिनभर बहुत सारे नेता मिलते हैं, लिहाजा आप उन्हीं से नाम पूछ लेना. मैं और इस मामले में क्या कहूं? 

रविवार को इंदौर प्रवास पर आईं इमरतीदेवी कहा कि ऐसे मामलों में महिलाओं की गलती होती है और पुरुषों को दोषी मान लिया जाता है, मैं ऐसी महिलाओं की तरफदारी नहीं करती। इस मामले में पुरुषों पर कार्रवाई नहीं होनी चाहिए, बल्कि महिलाओं के खिलाफ ही कार्रवाई की जानी चाहिए। चाहे महिला हाे या पुरुष हाे, जिसकी गलती हो, उसे सजा मिले। अकसर महिला की गलती हाेती है तब भी पुरुष काे दोषी माना जाता है। अगर पुरुषों को गलत तरीके से फंसाया जाए तो हमें ऐसी महिलाओं की तरफदारी नहीं करना चाहिए। उस पर भी एफआईआर होना चाहिए। पुरुष के ऊपर ही क्यों कार्रवाई होना चाहिए। 

वही उन्होंने हाल में दिए गए ट्रांसफर वाले बयान पर सफाई देते हुए कहा कि मैंने सही कहा था कि ट्रांसफर में पैसे लगते हैं क्योंकि सरकार को कर्मचारियों के ट्रांसफर में टीए डीए देना पड़ता है, उनके सामान को भिजवाने में ट्रक का खर्चा देना पड़ा है, इसलिए यह बात मैंने बात कही थी और उसमें कुछ गलत भी नहीं था, लेकिन मीडिया में मेरा बयान को कांट छांट कर चलाया गया था।

"To get the latest news update download tha app"