एमपी में अबतक 28 जिलों में सामान्य से अधिक बारिश, अगले 48 घंटे यहां येलो अलर्ट

भोपाल।

बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाव का क्षेत्र झारखंड होते हुए छत्तीसगढ़ की सीमा तक पहुंच चुका है। इसके असर से छत्तीसगढ़ में कई हिस्सों में तेज बारिश हो रही है।इसी के चलते मौसम विभाग ने मंगलवार और बुधवार को पश्चिम मध्यप्रदेश के कुछ हिस्सों में भारी बारिश का अनुमान व्यक्त करते हुए यलो अलर्ट जारी किया है।विभाग ने 48  घंटों में 18 जिलों में कहीं-कहीं भारी बारिश होने के आसार जताते हुए इन जिलों में येलो अलर्ट जारी किया है।इस दौरान 18 से 20 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हवाएं चलने की भी संभावना है। मौसम विभाग के अनुसार 21 अगस्त से प्रदेश में बारिश की गतिविधयों में तेजी आएगी।

28 में सामान्य से अधिक और 19 जिलों में सामान्य बारिश 

प्रदेश में इस साल मानसून में एक जून से 15 अगस्त तक 28 जिलों में सामान्य से अधिक, 19 जिलों में सामान्य और 4 जिलों में सामान्य से कम वर्षा हुई है। मौसम विभाग के मुताबिक, प्रदेश में सर्वाधिक बारिश मंदसौर जिले में और सबसे कम वर्षा सीधी जिले में दर्ज हुई है।

सामान्य से अधिक वर्षा वाले जिले

मंदसौर, नीमच, आगर-मालवा, भोपाल, शाजापुर, झाबुआ, राजगढ़, रतलाम, बड़वानी, बुरहानपुर, गुना, उज्जैन, सीहोर, अलीराजपुर, खण्डवा, इंदौर, रायसेन, धार, श्योपुर-कलां, नरसिंहपुर, अशोकनगर, खरगोन, जबलपुर, सिंगरोली, देवास और विदिशा हैं।

सामान्य वर्षा वाले जिले

 होशंगाबाद, मण्डला, सागर, मुरैना, भिण्ड, बैतूल, रीवा, उमरिया, टीकमगढ़, दमोह, शिवपुरी, हरदा, डिण्डोरी, अनूपपुर, ग्वालियर, दतिया, सिवनी, सतना, छिंदवाड़ा और छतरपुर हैं।कटनी, बालाघाट, पन्ना, शहडोल और सीधी जिलों में सामान्य से कम वर्षा दर्ज की गई है।

इन जिलों में अलर्ट

इसमें सागर, दमोह, टीकमगढ़, छतरपुर, पन्ना, सतना, सिवनी, राजगढ़, होशंगाबाद, रायसेन, अनूपपुर, बालाघाट, सिंगरौली, मंडला, नरसिंहपुर, बुरहानपुर एवं रीवा जिले का नाम शामिल है। मौसम विभाग के अनुसार पिछले 24 घंटों के दौरान प्रदेश में ग्वालियर, भोपाल, रीवा, शहडोल, सागर, होशंगाबाद व चंबल संभाग के जिलों में अनेक स्थानों पर व शेष संभाग के जिलों में कुछ स्थानों पर बारिश रिकॉर्ड की गई।



"To get the latest news update download tha app"