ट्रांसफर रूकवाने सहायक शिक्षक ने मांगी रिश्वत, लोकायुक्त ने रंगेहाथों धरा

पन्ना।

मध्यप्रदेश के रिश्वत का खेल जारी है। अब पन्ना जिले में लोकायुक्त ने बड़ी कार्रवाई करते हुए शिक्षा विभाग मैं पदस्थ सहायक शिक्षक को रिश्वत लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार किया है। आरोप है कि शिक्षक ने पद स्थापना बदलवाने के लिए रिश्वत की मांग की थी। यह कार्रवाई सलेहा में पदस्थ शिक्षक अरविंद दुबे की शिकायत पर की गई है।

जानकारी के अनुसार, जिले में आज सोमवार सुबह शिक्षा विभाग में पदस्थ ​सहायक शिक्षक रामशंकर रैकवार को 10 हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया गया है। सहायक शिक्षक को सागर लोकायुक्त की टीम ने घर में रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ा है। सहायक शिक्षक रामशंकर रैकवार ने सलेहा में पदस्थ टीचर अरविंद दुबे से ट्रांसफर रूकवाने के लिए रिश्वत मांगी थी। इसकी शिकायत दुबे ने सागर लोकायुक्त से की। सागर की टीम ने योजना बनाई और छापामार कार्रवाई करते हुए  रैकवार को रंगेहाथों रिश्वत लेते हुए पकड़ लिया। 

आरोप है कि रैकवार उच्च अधिकारियों को रुपए देने के बहाने सभी शिक्षकों और बाबुओं से रिश्वत लेता था। पूर्व में भी कई शिकायतों के बावजूद भी इसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई थी। आज जाकर सागर लोकायुक्त की कार्रवाई में यह पकड़ा गया।कुछ दिन पहले भी टीम द्वारा एक शिक्षक की शिकायत पर बाबू पर कार्यवाही की गई थी।




"To get the latest news update download tha app"