JNU विवाद में कूदे दिग्विजय, छात्रों का किया खुलकर समर्थन

भोपाल।

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में फीस वृद्धि को लेकर शुरू हुआ विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। सोमवार को छात्रों ने पैदल मार्च निकालकर विरोध जताया। इस दौरान छात्रों और पुलिस के बीच जमकर झड़प हुई और छात्रों को खदेड़ने के लिए पुलिस ने लाठी चार्ज कर दिया जिसमें कई घायल हो गए वही कईयों को हिरासत में लिया गया है। पुलिस की इस बर्बरता को लेकर अब जमकर सियासत गर्मा गई है। बयानबाजी का दौर तेजी से चल पड़ा है, राजनेता खुलकर छात्रों के समर्थन में उतर रहे है। इसी कड़ी में अब इस विरोध की आंच एमपी भी पहुंच गई है। कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह ने छात्रों का समर्थन किया है वही पुलिस पर छात्रों के साथ किए गए दुभाग्यपूर्ण व्यवहार की निंदा की है।

दरअसल, कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने इस मसले पर दिल्ली पुलिस और केंद्र सरकार पर निशाना साधा है।दिग्विजय सिंह ने मंगलवार सुबह ट्वीट कर आरोप लगाया कि दिल्ली पुलिस के द्वारा जिस तरह छात्रों के साथ व्यवहार किया गया है, मैं उसकी निंदा करता हूं। उन्होंने लिखा कि इससे भी अधिक हैरानी JNU प्रशासन और HRD मंत्रालय के व्यवहार पर होती है। कम से कम वो JNU में बढ़ाई गई फीस को वापस ले सकते हैं, जो कि इस बढ़ी फीस को नहीं झेल सकते हैं।

इधर एनएसयूआई ने दी उग्र आंदोलन की चेतावनी

वही जबलपुर में भी भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन जेएनयू छात्रों के समर्थन में उतर आया है।जबलपुर के महाकौशल कॉलेज के बाहर आज एनएसयूआई के कार्यकर्तओं ने केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और फीस वृद्धि के विरोध किया।वही  चेतावनी देते हुए कहा कि अगर जेएनयू के छात्रों की मांगों पर ध्यान नही दिया जाता है तो हम आंदोलन करने के लिए मजबूर हो जाएंगे।जबलपुर में केन्द्र सरकार के खिलाफ एनएसयूआई का उग्र आंदोलन होगा।




"To get the latest news update download tha app"