हनीट्रैप मामले में फरियादी इंजीनियर पर गिर सकती है गाज, कैबिनेट मंत्री ने दिए संकेत

इंदौर।

हाईप्रोफाइल हनीट्रैप मामले का खुलासा होने के बाद नगर निगम के अधीक्षण यंत्री हरभजनसिंह को हटाया जा सकता है।महापौर मालिनी गौड़ ने नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्धन सिंह से मामले में चर्चा कर निगम अधिकारी हरभजन के निलंबन की अनुशंसा की है।  मालिनी गौड़ ने नगरीय प्रशासन मंत्री से फोन पर बात की है और हटाने की मांग की है। वही जयवर्धन सिंह ने भी उन्हें हटाने के संकेत दिए है। माना जा रहा है कि आज-कल में अधिकारी पर निलंबन की कार्रवाई हो सकती है।

सूत्रों की माने तो खुलासे के बाद से ही हरभजन सिंह से निगम के सभी विभागों का प्रभार वापस ले लिया गया है, लेकिन अभी निलंबन की कार्रवाई नही की गई है। आपको बता दे कि हरभजन सिंह वही है जिसे युवतियों ने ब्लैकमेल कर तीन करोड़ रुपए मांगे थे। हालांकि इसके पहले ही पुलिस ने घेराबंदी कर युवतियों को गिरफ्तार कर लिया।

बताया जा रहा है कि खुलासे के बाद से ही निगम इंजीनियर गायब है। शुक्रवार को गिरफ्तारी के बाद जेल पहुंचने पर जिस अंदाज में श्वेता जैन ने हरभजन सिंह का नाम लेते हुए कहा कि हम उसे छोड़ेंगे नहीं यह भी काफी संशय पैदा करता है। निगम इंजीनियर हरभजन सिंह की तलाश में पुलिस भी जुट गई है। शिकायत करने के बाद सिंह गायब हो गए हैं। हरभजन का मोबाइल भी बंद आ रहा है। इसके कारण यह मामला और लंबा खिंचता नजर आ रहा है। अपनी नौकरी में चर्चित में रहे हरभजन आखिरी समय में भी निगम के साथ-साथ अन्य विभागों को भी चर्चित कर गए हैं।


"To get the latest news update download tha app"