कमलनाथ के मंत्री ने ली चुटकी, बोले-मोदी की पार्टी के लोग नही सुनते तो साध्वी कैसे सुनेगी

भोपाल।

अपने बयानों से सुर्खियों बटारने वाली भोपाल सांसद साध्वी प्रज्ञा ने प्रधानमंत्री मोदी के स्वच्छता अभियान पर सवाल उठाकर एक बार फिर राजनैतिक गलियारों में हलचल मचा दी है। साध्वी के बयान के बाद जहां बीजेपी में हड़कंप मच गया है वही सत्ता पक्ष ने मुद्दा लपकते हुए तंस कसना शुरु कर दिया है। सत्ता पक्ष उनके बयान को लेकर जमकर चुटकी ले रहा है और बीजेपी की कथनी और करनी पर सवाल उठा रहा है।

दरअसल, रविवार को साध्वी सीहोर पहुंची थी जहां स्थानीय लोगों चर्चा करते हुए साध्वी ने विवादित बयान दे दिया था। साध्वी ने कहा कि ध्यान रखिए, हमें नाली साफ करवाने के लिए सांसद नहीं बनाया गया है। हमें आपके शौचालय साफ करवाने के लिए सांसद नहीं बनाया गया है। हम जिस काम के लिए बनाए गए हैं, वह काम हम ईमानदारी से करेंगे। यह हमारा पहले भी कहना था, आज भी कहना है और आगे भी कहेंगे। इस पर रविवार को सदन मे कार्यवाही के दौरान वाणिज्यकर मंत्री बृजेन्द्र सिंह राठौर ने जमकर चुटकी ली  । राठौर ने कहा कि जब पीएम नरेंद्र मोदी की बात पार्टी के लोग नहीं सुनते तो भला साध्वी कैसे सुनेंगी। यही बीजेपी की कथनी और करनी है। 

हालांकि यह पहला मौका नही है। इससे पहले भी प्रज्ञा कई बार विवादित बयान दे चुकी हैं। प्रज्ञा पूरे चुनाव के दौरान अपने विवादित बोल के चलते चर्चा में रहीं। इस दौरान उन्होंने राम मंदिर से लेकर नाथूराम गोडसे तक पर विवादित बयान दिए। यही नहीं जब उन्होंने लोकसभा में सासंद के तौर शपथ लिया, तो भी काफी विवाद हुआ था। इसको लेकर पीएम मोदी तक उनसे नाराज हो गए थे।जिसके बाद उन्हें माफी भी मांगनी पड़ी थी।लेकिन सांसद बनने के बाद भी विवादित बयानों का सिलसिला जारी है।




"To get the latest news update download tha app"