बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों के दौरे पर शिवराज, बोले-'यह समय मैं और तू करने का नहीं, सभी मिलकर आगे आएं'

मंदसौर| मध्य प्रदेश में भारी बारिश से कई इलाकों में हालत बिगड़ गए हैं| सबसे ज्यादा स्तिथि मंदसौर और नीमच जिलों में ख़राब हुई है, जहां कई गाँव बाढ़ की चपेट में आये हैं| वहीं बाढ़ प्रभावित जिलों का दौरा करने पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मंदसौर पहुंचे और बाढ़ से हुए नुकसान का जायजा लेते हुए पीड़ितों से बात की | इस दौरान उन्होंने हरसंभव मदद का आश्वासन दिया। साथ ही प्रदेश वासियों से अपील की कि बाढ़ राहत के लिए, प्रभावितों की मदद के लिए हम अपनी तरफ से भी कुछ न कुछ योगदान करें । 

पूर्व सीएम शिवराज ने साफ किया है कि बाढ़ के संकट के समय किसी भी तरह की दोषारोपण नहीं किया जाएगा| प्रशासन का पूरा सहयोग किया जाएगा साथ ही पूर्व मुख्यमंत्री ने खुद की और मंदसौर सांसद सुधीर गुप्ता और विधायक यशपाल सिसोदिया की एक माह को सैलरी बाढ़ पीड़ितों को देने की घोषणा की| शिवराज सिंह चौहान ने मंदसौर में धुंधड़का, अफजलपुर, पाल्या मारू और रामपुरा में बाढ़ प्रभावितों से मिल रहे हैं। मल्हारगढ़ में भी प्रशासन से बाढ़ पीड़ितों को लेकर बात करेंगे। इसके बाद रात में वे मंदसौर में रहेंगे और मंगलवार को मंदसौर शहर और जिले के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करेंगे। 


विरोध के लिए नहीं सहयोग के लिए आए हैं 

शिवराजसिंह चौहान ने कहा कि सरकार बाढ़ पीड़ितों की मदद करेगी ही। हमें भी पीड़ितों के लिए कुछ ना कुछ करना चाहिए। हमें इसकी पहल करनी होगी। इसलिए हमने तय किया है कि पीड़ितों मैं विधायक यशपाल सिसौदिया, सासंद सुधीर गुप्ता सहित कई अन्य भाजपा के विधायक और सांसद एक महीने का अपना वेतन देंगे। स्थिति भयानक है, जनता संकट में है, हम चुप नहीं बैठ सकते । उन्होंने कहा हमारा धर्म और कर्तव्य हमें पुकार रहा है कि हम जनता की सेवा के लिए जो बेहतर कर सकें वह करने का प्रयास करें । यहां यह स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि हम लोग यहां विरोध के लिए नहीं बल्कि सहयोग के लिए आए हैं । हमारी पहली प्राथमिकता है कि पानी में घिरे जो लोग हैं गांव हैं उनको राहत मिल सके । रेस्क्यू ऑपरेशन के साथ तत्काल राहत बहुत जरूरी है ।  हम सभी के मन में एक ही भाव है कि इस समय आरोप-प्रत्यारोप नहीं प्रशासन को फुल सपोर्ट करना है, ताकि इस समय हम जनता को इस संकट से निकाल सकें ।


राजनीति हम बाद में कर लेंगे, अभी मिलकर पीड़ितों की मदद करें 

पूर्व सीएम ने कहा क्यों हुआ क्या हुआ कैसे हुआ इसकी राजनीति हम बाद में कर लेंगे । पहली प्राथमिकता जिन लोगों का सब कुछ बह गया उनकी मदद करना है ।  मैं मुख्यमंत्री जी और प्रशासन को भी अपील करना चाहता हूं  शिवराज जहां जाता है वहां आप लोग विरोध करना शुरू कर देते हैं  यह वक्त गाली देने का नहीं बल्कि एक साथ मिलकर बाढ़ पीड़ितों की सहायता करने का है, उनका सहयोग करें उनकी मदद करे । राजनीतिक लड़ाई हम बाद में लड़ लेंगे । उन्होंने कहा प्रधानमंत्री जी का जन्मदिन 17 सितंबर को है भारतीय जनता पार्टी पूरे देश सेवा सप्ताह मना रही है हम सभी यहां मंदसौर में नीमच में बाढ़ पीड़ितों की सेवा में खुद को झोंकेंगे ।  मेरा मुख्यमंत्री जी और कांग्रेस के लोगो से यह अपील है कि यह समय मैं और तू करने का नहीं है, आइए हम साथ मिलकर के अपने लोगों की सेवा में जुटे ।


"To get the latest news update download tha app"